दिलचस्प

मां ने किया बेटी का अंतिम संस्कार, 3 साल बाद जिंदा मिली बेटी, गोद में 2 साल का बच्चा भी था

बिहार के कैमूर में एक बड़ा ही अजीब मामला सामने आया है। यहां एक माता पिता ने तीन साल पहले अपनी बेटी का अंतिम संस्कार किया था। लेकिन अब वह उन्हें जिंदा मिल गई। इतना ही नहीं उनकी बेटी का दो साल का एक बेटा भी है जो उसे अपने प्रेमी जीजा से हुआ है। चलिए इस हैरान कर देने वाले मामले को थोड़ा और विस्तार से जानते हैं।

दरअसल साल 2018 में देवराढ़ कला के बगल में बसही नहर के नजदीक पुलिस को एक महिला का शव मिला था। तब महिला के शव की ठीक से पहचान नहीं हो पा रही थी। इस बीच लड़की के मायके वालों ने चप्पल, कपड़े और रुमाल के आधार पर लाश को अपनी बेटी का बताया। इसके बाद उन्होंने बेटी का अंतिम संस्कार भी कर दिया।

दरअसल उनकी बेटी तीन साल पहले पति के अत्याचारों से परेशान होकर मायके आ गई थी। यहां आने के बाद वो अचानक गायब हो गई थी। इसके कुछ दिनों बाद उन्हें पुलिस द्वारा एक अंजान लड़की की लाश मिली, जिसे उन्होंने अपनी बेटी की लाश समझ अंतिम संस्कार कर दिया। हालांकि इस घटना के तीन साल बाद पुलिस ने लड़की और उसके प्रेमी जीजा को यूपी के सोनभद्र में गिरफ्तार कर लिया। बेटी को अपनी आँखों के सामने देख घरवाले हैरान रह गए।

बेटी के गायब होने के बाद मायके वालों ने उसके पति, सास, ससुर और ननद, नंदोई पर मर्डर का केस दर्ज किया था। पुलिस इसी केस की जांच कर रही थी। हालांकि उन्हें लड़की की मौत के कोई सबूत नहीं मिल पा रहे थे। इसी जांच के दौरान उन्होंने महिला को यूपी के सोनभद्र जिले से ढूंढ निकाला और पकड़कर अपने साथ ले आई। महिला के साथ उसका प्रेमी भी मिला जो रिश्ते में उसका जीजा लगता है।

पकड़े जाने के बाद महिला ने पुलिस को बताया कि मेरी शादी कुदरा थाना के देवराढ़ कला में हुई थी। पति मेरे साथ आए दिन मारपीट करता था। इसके बाद मैन अपने मायके चली आई। यहां मुझे मेरे जीजा से प्यार हो गया। ऐसे में हम दोनों ने भागकर शादी कर ली। मेरा उनसे एक दो साल का बच्चा भी है। अब मैन उन्हीं के साथ रहना चाहती हूं।

उधर महिला की मां का कहना है कि साल 2018 में मिली लाश के चप्पल और रुमाल को देख हमे लगा ये हमारी बेटी की लाश है। इसलिए हमने उसका अंतिम संस्कार कर दिया था। लेकिन अब जब पुलिस उसे जिंदा पकड़ लाई तो हम सभी हैरान हैं।

Show More
Back to top button