घर से 4 दिन गायब थी बीवी, पति ने खौलते तेल में हाथ डलवा चेक की पवित्रता

सतयुग में भगवान श्रीराम ने सीता की अग्निपरीक्षा ली थी। तब माता सीता को अपनी पवित्रता साबित करने के लिए जलती चिता पर चलना पड़ा था। अब ऐसा ही एक मामला कलयुग में भी देखने को मिला है। यहां एक महिला घर से चार दिन गायब रही तो उसके पति ने बीवी की पवित्रता चेक करने के लिए उसका हाथ खौलते तेल में डलवा दिया। इतना ही नहीं पति ने इस घटना का एक वीडियो भी बनाया।

दरअसल ये पूरा मामला महाराष्ट्र के उस्मानबाद के परंडा का है। यहां रहने वाली एक महिला का अपने पति से झगड़ा हो गया था। ऐसे में वह मायके जाने का कहकर ससुराल से चली गई थी। लेकिन महिला मायके भी नहीं पहुंची। फिर चार दिन बाद जब महिला घर वापस आई तो उसने बताया कि दो लोगों ने मुझे किडनेप कर लिया था। हालांकि उन लोगों ने मेरे साथ कुछ भी गलत नहीं किया।

अब पति को महिला की बात पर यकीन नहीं हुआ। ऐसे में उसने पत्नी की पवित्रता चेक करने के लिए अग्निपरीक्षा ले ली। उसने खौलते तेल में 5 रुपए का सिक्का डाला और बीवी को उसे निकालने के लिए कहा। अपनी पवित्रता साबित करने के लिए पत्नी ने हाथ खौलते तेल में डाल भी दिया। इस घटना को महिला के पति ने मोबाईल में कैद भी कर लिया।

वीडियो जल्द ही वायरल भी हो गया। वीडियो में पति कहता है कि वह अपनी बीवी का सच जानना चाहता है इसलिए ऐसा कर रहा है। दरअसल मिया बीवी पारधी समुदाय से तालुक रखते हैं। इस समुदाय में लोगों से सच उगलवाने के लिए खौलते तेल में हाथ डलवाने की प्रथा है। इसके लिए गर्म तेल की कड़ाही में पांच का सिक्का डाला जाता है। इसके बाद व्यक्ति को अपनी शुद्धता साबित करने के लिए उस सिक्के को हाथ से बाहर निकालना होता है। बस यही वजह थी कि पत्नी ने भी अपनी पवित्रता पति के सामने दिखाने के लिए ऐसा किया।

हालांकि जब ये वीडियो वायरल हुआ तो अधिकारियों ने इसकी जांच शुरू कर दी। अब महिला पर पवित्रता के नाम पर अत्याचार करने वाले पति के ऊपर जल्द कोई एक्शन लिया जा सकता है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद महाराष्ट्र विधान परिषद की सभापति नीलम गोरहे ने गृह मंत्री अनिल देशमुख से विनती की है कि दोषी पति पर कार्रवाई की जाए।

वैसे इस पूरे मामले पर आपकी क्या राय है? अपने विचार हमे कमेन्ट सेक्शन में जरूर दें।