तमाम बॉलीवुड की बड़ी फिल्मों को पछाड़ कर ओड़िया फिल्म ‘कलिरा अतिता’ पहुंची ऑस्कर अवार्ड पाने..

दुनिया भर में फिल्मे इसलिए बनाई जाती है ताकि लोगों का मनोरंजन किया जा सके. इसके साथ ही जब फिल्म लोगों के दिलों में जगह बना लेती यही और अपार सफलता पा लेती है. इसके बाद उस फिल्म से जुड़े सभी लोगों का सपना होता है कि फिल्म सभी अवार्ड पाते हुए फ़िल्मी दुनिया के सबसे बड़े अवार्ड ऑस्कर को भी पा ले. लेकिन यह सपना ही होता है, वहां तक पहुंचने के लिए किसी भी फिल्म को कई पैमानों पर खरा उतरना पड़ता है.

ऑस्कर की दौड़ में निर्देशक नीला माधब पांडा की फिल्म ‘कलिरा अतिता’ भी शामिल हो गई है. आपको बता दें कि उनकी यह ओड़िया फिल्म ‘कलीरा अतीता’ (Kalira Atita) कई पैमानों पर खरा उतरकर ऑस्कर पुरस्कारों के लिए शामिल हो गई है. निर्देशन निला माधव पंडा ने की यह फिल्म ऑस्कर की जनरल कैटेगरी में बेस्ट फिल्म, बेस्ट एक्टर, बेस्ट डायरेक्टर और कई दूसरी श्रेणियों में सम्मिलित किया गया है. इस फिल्म में भारत के पूर्वी तटीय इलाकों उड़ीसा से गायब होते गांवों की कहानी को दर्शाया गया है, जो जलवायु परिवर्तन के कारण बढ़ रहे समुंदर के पानी के कारण गायब हो रहे हैं.

चुनौतियों से भरे एक साल में, #KaliraAtita की जानकारी देते हुए बेहद खुशी महसूस हो रही है कि कलिरा अतिता ने ऑस्कर की जनरल कैटेगरी में एंट्री कर ली है. अब यह एकेडमी स्क्रीनिंग के लिए पूरी तरह से तैयार है. यह सर्वश्रेष्ठ चित्र, सर्वश्रेष्ठ अभिनेता, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक और कई अन्य श्रेणियों में है. मैं हर किसी का शुक्रगुजार हूं’ नीला ने आगे बताया कि, ‘न्यूयॉर्क और लॉस एंजिल्स में थिएटर बंद होने की वजह से यहाँ तक आना बहुत परेशानी भरा था कि हम क्वॉलिफाइ कर पाए. इसके बाद हमने पब्लिसिटी करना शुरू कर दिया और ज्यूरी तक पहुंचे, ताकि उन्हें फिल्म दिखा सकें.’

गौरतलब है कि फिल्म ‘कलिरा अतिता’ से पहले करिश्मा देव दुबे की फिल्म ‘बिट्टू’, ‘सूराराई पोट्रू’ भी ऑस्कर में जा चुकी है. आपको बता दें कि ऑस्कर अवार्ड के फाइनल नॉमिनेशन के अनाउंसमेंट 15 मार्च तक होंगे. वही इसकी अवार्ड सेरेमनी 25 अप्रैल को होगी. आपको बता दें कि भारत की तरफ से आधिकारिक एंट्री लेने वाली ‘जल्लीकट्टू’ ऑस्कर की दौड़ से पहली ही छटनी में बाहर हो गई है. ज्ञात हो कि ऑस्कर अवार्ड फिल्मों को मिलने वाला बेस्ट अवार्ड होता है. इसे पाने का सपना बड़े बड़े स्टार और निर्देशक देखते है.