विशेष

1.एक्ट्रेस को घर की बहू नहीं बनाना चाहता था अंबानी परिवार,जानें फिर कैसे हुई अनिल-टीना की शादी?

80 की दशक की बेहतरीन एक्ट्रेस की लिस्ट में टॉप पर शुमार टीना मुनीम ने साल 1975 में फेमिना टीन प्रिसेंस इंडिया का खिताब जीता था। इसके बाद उनका करियर सातवें आसमान पर जा पहुंचा। दरअसल, टीना मुनीम पर देव आनंद की नजर पड़ी, जिसके बाद वे उनके साथ फिल्मों में नजर आने लगीं। हालांकि, अब टीना मुनीम की पहचान अंबानी परिवार की बहू के रूप में होती है। वे अनिल अंबानी की पत्नी हैं।

टीना लूटमार, मनपसंद, सौतन, रॉकी, अलग-अलग, कर्ज, ये वादा रहा जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम कर चुकी हैं, जिसकी वजह से वे उन दिनों युवाओं के दिलों पर राज करती थी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज टीना अंबानी अपना 64वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं। ऐसे में, आज हम आपको टीना और अनिल अंबानी की लव स्टोरी के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि बेहद फिल्मी हैं।

देश के जाने माने इंडस्ट्रीलिस्ट अनिल अंबानी के लिए उन दिनों टीना का हाथ थामना आसान नहीं रहा। दरअसल, अनिल और टीना का रिश्ता धीरूभाई को पसंद नहीं था। इतना ही नहीं, उन्हें यह बिल्कुल भी पसंद नहीं था कि उनका बेटा किसी एक्ट्रेस से शादी करें। ऐसे में, अनिल और टीना को अपने प्यार को पाने के लिए बहुत कुछ सहना पड़ा। तो चलिए जानते हैं कि आखिर टीना मुनीम कैसे अंबानी परिवार की बहू बन गई?

पहली ही नजर में टीना को पसंद करने लगे थे अनिल अंबानी

साल 1986 में टीना मुनीम और अनिल अंबानी की पहली मुलाकात हुुई थी। दरअसल, दोनों किसी कॉमन फ्रेंड की शादी में पहुंचे थे। इसी शादी में अनिल अंबानी ने टीना को पहली दफा देखा था। बताया जाता है कि टीना को ब्लैक साड़ी में देखते ही अनिल अंबानी ने उन्हें अपना दिल दे बैठे थे। हालांकि, उस समय टीना की नजरें अनिल अंबानी पर नहीं थी, लेकिन अनिल को उनसे पहली ही नजर में प्यार हो गया था।

अपनी पहली मुलाकात में दोनों के बीच कोई बातचीत नहीं हुई थी, लेकिन किस्मत ने एक बार फिर से दोनों को मिलाया। दरअसल, अनिल अंबानी फिलाडेल्फिया गए हुए थे, जहां उनकी मुलाकात फिर से टीना से हुई। इस दौरान दोनों के बीच थोड़ी बातचीत भी हुई। इतना ही नहीं, टीना को उस समय रिलायंस इंडस्ट्री के बारे में कुछ भी नहीं पता था। एक इंटरव्यू में टीना ने कहा था कि उन्हें भी पहली नजर में ही अनिल पसंद आ गए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो टीना और अनिल अंबानी के बीच पहले दोस्ती हुई और फिर दोनों एक दूसरे से अक्सर मिलने जुलने लगे। इसके बाद धीरे धीरे दोनों के बीच प्यार पनपे लगा। जब दोनों के बीच प्यार गहरा हो गया, तो उन्होंने शादी करने का फैसला लिया, लेकिन प्यार से शादी तक का सफर उनके लिए आसान नहीं था। दरअसल, इस दौरान दोनों को अपने परिवार से भी लड़ना पड़ा। तो चलिए जानते हैं कि अंबानी परिवार ने कैसे टीना को अपने घर की बहू बनाया?

अंबानी परिवार था रिश्ते के खिलाफ

अनिल ने जब टीना के बारे में  अपने परिवार को बताया तो इस रिश्ते के लिए झट से मना कर दिया गया। दरअसल, अनिल के पिता नहीं चाहते थे कि कोई एक्ट्रेस अंबानी परिवार के घर की बहू बने। ऐसे में, फैमिली की वजह से अनिल ने टीना से दूर होने का फैसला किया। जब यह बात टीना को पता चली तो उन्होंने कोई रिएक्शन नहीं दिया, लेकिन अंदर से उन्हें बहुत दुख हुआ था। बहरहाल दोनों एक दूसरे से दूर रहने लगे।

साल 1989 में अमेरिका के लॉस एंजिल्स में बड़ा भूकंप आया था, तो उस वक्त टीना वही थी। यह खबर सुनकर अनिल अंबानी विचलित हो गए और उन्होंने तुरंत ही टीना का नंबर खोजकर उन्हें फोन किया। अनिल ने फोन कर टीना से पूछा कि तुम ठीक हो? इसका जवाब सुनते ही अनिल ने फोन कट कर दिया। अनिल का यह बर्ताव देखकर टीना काफी हैरान थी और उन्होंन फिर से उन्हें फोन किया, जिसके बाद दोनों की बातचीत हुई।

बताया जाता है कि इस फोन कॉल के बाद ही अनिल अंबानी ने यह डिसाइड कर लिया कि वे शादी टीना से ही करेंंगे। इसके बाद उन्होंने अपने घर में बातचीत की और साल 1991 में परिवार की सहमति से अनिल ने टीना से शादी रचाई। यह शादी गुजराती रीति रिवाज से हुई थी।

Back to top button