बुरा वक्त आने से पहले भगवान देते हैं यह 8 संकेत, चेत गए तो भला… देखें वीडियो!

हमारे जीवन में जो कुछ भी होता है उसके पीछे प्रकृति हमें संकेत देती है, फर्क सिर्फ इस बात का है कि कुछ लोग इन संकेतों को समझ लेते हैं और कुछ लोग नहीं समाझ पाते. हम आपको ऐसे 8 संकेतों के बारे में बताएंगे जिन्हें अगर आप सही समय पर समझ गए तो कभी भी आप बुरे वक्त में विचलित नहीं होंगे. हमारा बुरा वक्त आने से पहले भगवान हमें 8 तरह से संकेत देते हैं.

यहां दिए गए वीडियो में एक कथानक के माध्यम से बताया गया है कि ईश्वर किस तरह से संकेत देते हैं और किस तरह से उसपर अमल करके खुद को सावधान और सुरक्षित रखा जाता है. इश्वर कभी भी खुद आकर आपकी रक्षा नहीं करते वह किसी न किसी रूप में या किसी को माध्यम बनाकर आपकी सहायता या रक्षा करते हैं.

इस वीडियो में 8 ऐसे संकेत बताये गए हैं जो हमें भान कराते हैं कि हमारा बुरा वक्त आने वाला है. वो संकेत इस प्रकार हैं.

*_ सिन्दूर लगाते समय सुहागन की सिन्दूर की डिबिया गिरना उसके पति के कारोबार के लिए बुरे समय का संकेत है

*_ बेवक्त और बिना वजह दूध का फटना इस बात का संकेत है कि आपके घर में कोई बड़ा क्लेश होने वाला है या फिर जल्द ही कोई बड़ी बीमारी आने की आशंका है.

*_ बुरे सपनों का हर रोज आना इस बात का संकेत है कि घर में कोई क्लेश होने वाला है, इससे कारोबार मंदा होने के संकेत भी मिलते हैं. इन दोनों के साथ ही बुरे सपनों के बार बार आने पर यह परिवार के किसी सदस्य पर बड़ी मुसीबत आने की आशंका को भी पुष्ट करता है.

*_ आपके घर के आसपास या आपकी पाली हुयी बिल्ली अगर अक्सर अलग अलग तरफ की आवाज निकाल रही है और डर रही है तो समझिये कि आपके आसपास के परिवेश में कोई नकारात्मक उर्जा काम कर रही है. जो किसी समस्या की वाहक हो सकती है.

*_ मंगलसूत्र का अचानक टूट जाना पति के जीवन पर आने वाले संकट का संकेत डेटा है. ऐसी स्थिति में पत्नी को तुलसी की पूजा करनी चाहिए.

*_ घर निकलने पर आये दिन कहीं न कहीं झगड़ा मारपीट देखने को मिले तो समझिए कि किसी कोई क्लेश होगा या फिर आपसी रिश्तों में खटास आने की आशंका है.

*_ खाना खाते समय पहले निवाले का कडवा लगना और दूसरे का सामान्य लगना इस बात का संकेत डेटा है कि आपके किसी रिश्तेदार के यहां से बुरी खबर आ सकती है. इतना ही नहीं आपका कोई बनता हुआ रिश्ता बिगड़ भी सकता है.

*_ अगर कभी पूजापाठ के दौरान पूजन थाल गिर जाती है तो समझिये कि आपसे देवतागण रुष्ट हैं. इसलिए पूजन विधि में सुधार की जरूरत है.

अधिक जानकारी के लिए इस वीडियो को पूरा देखें –

loading...