बॉलीवुड

इस आदमी ने अपनी पत्नी को जगजीत सिंह से नज़दीकियां बढ़ाने के कारण दिया था तलाक, फिर हुआ ऐसा कि..

भारत में ऐसे कई सिंगर्स हुए जिन्होंने गजलें गाई है. जिनकी गजलें दुनिया भर में मशहूर हुई हैं. फिर भी अगर भारत में किसी से पूछ लिया जाए कि भारत का गजल गायक कौन हैं ? यक़ीनन हर कोई गजल गायक जगजीत सिंह का नाम ही बताएगा. जगजीत सिंह का जैसा नाम हैं वैसा ही उनका काम भी हैं. उन्होंने अपनी गजल से वाकई में जगत को जीता था.

आज मशहूर गायक जगजीत सिंह की 80वीं बर्थ एनिवर्सरी है. उनका जन्म 8 फरवरी, 1941 को श्रीगंगानगर में हुआ था. जगजीत ने निदा फाजली, जावेद अख्तर, गुलजार सहित कितने ही शायरों के कलाम को अपनी शानदार आवाज दी हैं. जगजीत सिंह ने अपनी आवाज़ का जादू कई फिल्मों में भी दिखाया हैं. यह तो सिर्फ उनकी गजल गायिकी की बात हो गई.

जगजीत जितने अपनी गायकी के लिए जानें जाते उतने ही उनकी आशिकी के किस्से भी मशहूर हैं. आपको यह जानकार हैरानी होगी कि जगजीत सिंह का दिल एक ऐसी महिला पर आ गया था जो पहले से ही शादीशुदा थी. इतना ही नहीं उन्होंने एक दिन उसी महिला के पति से जाकर उनका हाथ भी मांग लिया था. हम आपको बताते हैं जगजीत सिंह की ये अजीब सी लव स्टोरी.

जगजीत का जन्म राजस्थान में हुआ था और उनकी परवरिश पुश्तैनी गांव पंजाब के रोपड़ जिले में हुई. उनका परिवार चाहता था कि वह पढ़ लिखकर बड़े अफसर बने लेकिन उनकी क़िसमत को कुछ और ही मंजूर था. वह अफसर न बनते हुए भारत के मशहूर और लोकप्रिय गजल गायक बन गए. जगजीत सिंह की लव लाइफ भी काफी चर्चा में रही.

जगजीत सिंह ने शादी चित्रा सिंह से की थी. चित्रा सिंह खुद पहले से ही शादी शुदा थी, उन्होंने अधिकारी देबू प्रसाद दत्‍ता से शादी की थी. चित्रा मुंबई में जहां रहती थीं उनके सामने वाले घर में एक गुजराती परिवार रहा करता था. इसी परिवार में अक्सर जगजीत का आना जाना हुआ करता था. जगजीत अपने गानों की रिकॉर्डिंग करते थे. इसी दौरान एक दिन चित्रा को सामने से कुछ आवाज सुनाई दी. उन्होंने कुछ समय बाद जाकर पड़ोसी से पूछा तो उन्होंने चित्रा को जगजीत के गाने सुना दिए, लेकिन उन्हें जगजीत के गाने बिल्कुल भी पसंद नहीं आए.

आपको बता दें कि चित्रा खुद एक गायिका थी. जगजीत सिंह और चित्रा 1967 में एक ही स्‍टूडियो में रिकॉर्डिंग कर रहे थे, इसी दौरान उनकी बातचीत भी शुरू हो गई. चित्रा ने जगजीत को कहा कि आपको मेरा ड्राइवर घर छोड़ देगा, घर आते ही चित्रा ने उन्हें चाय के लिए इन्वाइट किया. इसके बाद जगजीत ने चाय के बदले उन्हें एक गजल सुना दी. जगजीत की गजल ने चित्रा का दिल जीत लिया. इसके बाद दोनों की मुलाकातों का दौर शुरू हो गया. इसी दौरान दोनों का दिल भी एक-दसूरे पर आ गया.

जगजीत से मिलते-मिलते चित्रा अपने पति से भी दूर होती गई. क्योंकि उनके पति को भी किसी और से प्यार हो गया था. बाद में दूरिया बढ़ने पर दोनों ने एक-दूसरे की मर्जी से तलाक ले लिया. 1970 में चित्रा के पति देबू ने भी दूसरी शादी कर ली. जगजीत भी देबू के पास शादी के लिए चित्रा का हाथ मांगने गए थे और उन्होंने भी हां कर दिया था.

जगजीत ने हमें ‘झुकी झुकी सी नजर’,’होठों से छू लो तुम’, होश वालों को खबर क्या’,’ये दौलत भी ले लो’, जैसे शानदार गजलें दी हैं. जगजीत सिंह का निधन 10 अक्टूबर, 2011 को हुआ था.

Back to top button