समाचार

किसान प्रदर्शन : दिल्ली पुलिस की बड़ी कार्रवाई, ग्रेटा थनबर्ग के ख़िलाफ़ दर्ज की एफआईआर

विदेशी गायिका रिहाना और जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के बयानों ने भारत में जारी किसान आंदोलन को एक नई दिशा प्रदान कर दी है. हाल ही में इन दोनों विश्वस्तरीय हस्तियों ने किसान आंदोलन पर अपनी बात रखी है. रिहाना और ग्रेटा थनबर्ग दोनों ने ही किसानों के समर्थन में ट्वीट किए हैं.

अब दिल्ली पुलिस ने जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के बयान को भड़काऊ टिपणी करार दिया है और ग्रेटा के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. बता दें कि, किसान आंदोलन पर रिहाना द्वारा ट्वीट किए जाने के बाद ग्रेटा ने भी तुरंत अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट से किसानों के समर्थन में ट्वीट किया था.

प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, स्वीडन की रहने वाली और अमेरिकी नागरिकता प्राप्त 18 वर्षीय ग्रेटा के ख़िलाफ़ दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 153 A और 120B के तहत एफआईआर दर्ज की है. ऐसे में ग्रेटा की मुश्किलों में इज़ाफ़ा हो सकता है. बता दें कि, दिल्ली पुलिस की साइबर सेल द्वारा ग्रेटा के खिलाफ उनके कई ट्वीट्स पर संज्ञान लिया गया है, जिन्हें भड़काऊ बताया गया है.

बता दें कि, हाल ही में आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में ग्रेटा और रिहाना के साथ ही अश्लील फिल्मों की पूर्व एक्ट्रेस मिया खलीफा और अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की भांजी समेत दुनियाभर से कई विदेशी हस्तियों ने अपनी बात रखी है.

गौरतलब है कि, ग्रेटा ने मंगलवार रात को किसानों के समर्थन में ट्वीट किया था. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, “हम भारत में #FarmersProtest के साथ एकजुटता से खड़े हैं.” जबकि रिहाना ने अपने ट्वीट में कहा था कि, हम इस मामले पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने किसान आंदोलन से जुड़ी एक तस्वीर भी साझा की थी.

दूसरी ओर विदेश मंत्रालय द्वारा सभी विदेशी हस्तियों को किसान आंदोलन पर समर्थन देने पर बयान जारी किया है. विदेश मंत्रालय ने इसे लेकर कहा है कि, यह हमारा आंतरिक मामला है और इसे हम सुलझा लेंगे. किसी भी तरह की टिप्पणी करने से पहले तथ्यों और परिस्थितियों की जांच करना जरूरी है.

आपको बता दें कि, कुछ देर पहले ग्रेटा थनबर्ग के समर्थन में एक और ट्वीट किया था. उन्होंने अपने हालिया ट्वीट में लिखा है कि, ”मैं अब भी किसानों के साथ खड़ी हूं और उनके शांतिपूर्ण विरोध का समर्थन करती हूं. नफरत, धमकी या मानवाधिकारों के उल्लंघन की किसी भी कोशिश यह बदलेगी नहीं.”

बता दें कि, विदेशी हस्तियों को विदेश मंत्रालय के साथ ही फ़िल्मी सितारों और भारतीय क्रिकेटर्स ने भी करारा जवाब दिया है. कंगना रनौत, लता मंगेशकर, विराट कोहली, सचिन तेंदुलकर, करण जौहर, अक्षय कुमार, अजय देवगन, सुनील शेट्टी, रवि शास्त्री, सुरेश रैना, रोहित शर्मा और अनिल कुंबले जैसे कई जाने-माने चेहरों ने भारत सरकार के समर्थन में ट्वीट करते हुए विदेशी हस्तियों को करारा जवाब दिया है. वहीं दूसरी ओर भारत के कई ख़्यात चेहरों ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए विदेशी हस्तियों के बयानों का समर्थन भी किया है.

Back to top button