बॉलीवुड

जब शत्रुघ्न सिन्हा को सबक सिखाने के लिए बेल्ट लेकर दौड़ पड़े थे शशि कपूर, ‘शॉटगन’ ने बताया वजह

दिग्गज़ अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने हिंदी सिनेमा मे शानदार काम किया है और वे अपने जमाने के मशहूर कलाकारों मे शुमार रहे हैं. शत्रुघ्न सिन्हा शूटिंग सेट पर देरी से पहुंचने के लिए भी पहचाने जाते थे. वे समय की सीमा को इस तरह पार कर देते थे कि, उनके साथी कलाकार उनका तीन-चार घंटे तक इंतज़ार किया करते थे.

अपनी लेटलतीफी के लिए मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा के पीछे इसके चलते एक बार दिग्गज़ और दिवंगत अभिनेता शशि कपूर बेल्ट लेकर दौड़ पड़े थे. आइए आखिए जाने हैं कि, यह किस्सा क्या था और शशि कपूर ने शत्रुघ्न के साथ ऐसा क्यों किया था.अभिनेता शत्रुघ्न ने हाल ही मे इसे लेकर ख़ुलासा किया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने हाल ही में इस किस्से के बारे मे अपने एक साक्षात्कार में बात की है. ‘शॉटगन’ के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा ने बताया है कि, ‘एक बार लेट आने के कारण शशि मुझे मारने के लिए बेल्‍ट लेकर दौड़े. मैंने उन्‍हें बताया कि उन्‍हें समय की पाबंदी तो मुझे मेरे टैलंट की वजह से कास्‍ट किया गया है. इस पर शशि ने कहा कि देखो, कितनी बेशर्मी से कह रहा है.’ सिन्हा ने आगे बताया कि, ‘यह सबकुछ मजाक ही था. शशि और मेरी बेहतरीन केमिस्‍ट्री थी.’

इन मौकों पर टाइम से पहुंचें ‘शॉटगन’…

आगे साक्षात्कार में बातचीत करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने बताया कि, कई मौके ऐसे भी आए है, जब वे शूटिंग सेट पर समय से भी पहुंचें हैं. इनकी गिनती बताते हुए ‘शॉटगन’ ने कहा कि, ‘एक बार मैं अमिताभ बच्‍चन के साथ शूटिंग कर रहा था और हमें सुबह 4.30 बजे बुलाया गया था. मैं वहां टाइम पर पहुंचा. कोलकाता में गौतम घोष की फिल्‍म ‘अंतरजलि जात्रा’ के लिए भी मैं टाइम पर सुबह-सुबह पहुंचता था.’

योग की वजह से होती थी देर…

शत्रुघ्न सिन्हा ने आगे इस वजह का भी ख़ुलासा किया कि, आखिर किस वजह से वे सेट पर देर से पहुंचते थे. अभिनेता ने लेटलतीफी की आदत को स्वीकार करते हुए कहा कि, ‘मैं जान-बूझकर लेट नहीं जाता था. काम पर निकलने से पहले योग करना मेरा नियम था जिसमें टाइम लगता था और मैं लेट हो जाता था.’

शत्रुघ्न ने अपने साक्षात्कार में खुद बताया कि वे सेट पर तीन तीन-चार चार घंटे देर से पहुंचा करते थे. सिन्हा कहते हैं कि, ‘सुबह 9 बजे की शिफ्ट होती थी तो कभी-कभी मैं दोपहर 12, 12:30 तक पहुंचता था लेकिन मेरी याददाश्‍त तेज थी, आज भी है. ऐसे में मैं एक टेक में अपनी लाइंस खत्‍म कर लेता था और हम समय से पहले काम पूरा कर लेते थे. मैं वन टेक आर्टिस्‍ट था.’

‘शॉटगन’ ने आगे बताया कि, ‘कोई भी प्रड्यूसर मुझ पर फिल्‍म में देरी का आरोप नहीं लगा सकता. यही दर्शाता है कि मैंने कैसे मनमोहन देसाई के साथ 10 से 11 तो हरमेश मल्‍होत्रा के साथ 13 फिल्‍में कर लीं. ऐसा ना होता तो ये प्रड्यूसर्स मुझे रिपीट क्‍यों करते? आपको मालूम है कि मुझे शोले, दीवार, सत्‍ते पे सत्‍ता और अचानक जैसी फिल्‍में ऑफर हुई थीं?’

बता दें कि, शत्रुघ्न सिन्हा लंबे समय से फिल्मे पर्दे से दूर है. वे राजनीति में सक्रिय है. साल 2019 में वे कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं, हालांकि उन्हें इस दौरान हार का सामना करना पड़ा था.

Back to top button