बॉलीवुड

अपनी आख़िरी फ़िल्म देखे बिना दुनिया से चले गए ये सितारे, एक की नग्न अवस्था में मिली थी लाश

जिसने जन्म लिया है, उसकी मृत्यु निश्चित है और कौन कब दुनिया को अलविदा कह दे इस बारे में कोई कुछ नहीं कह सकता है. बॉलीवुड के कुछ सितारें भी असमय ही इस दुनिया से चल बसे हैं. फ़िल्म इंडस्ट्री के कुछ सितारे ऐसे भी रहे हैं, जो अपनी आख़िरी फ़िल्म देखे बिना ही दुनिया छोड़ चले थे. तो आइए आज ऐसे ही 5 सितारों के बारे में हम आपको बताते हैं…

ओम पुरी- ट्यूबलाइट

ओम पुरी की गिनती हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेताओं में होती है. ओम पुरी ने हिंदी सिनेमा की कई शानदार और हिट फिल्मों में कमा किया है. ओम पुरी 4 साल पहले साल 2017 में 6 जनवरी को अपने घर में मृत पाए गए थे. ओम की लाश उनके घर में संदिग्ध अवस्था में मिली थी. वे अपने घर में नग्न अवस्था में मृत मिले थे और उनके सिर पर एक गहरा घाव भी था. बता दें कि, निधन से पहले वे फ़िल्म ट्यूब लाइट में काम कर रहे थे. यह फ़िल्म उनके निधन के बाद जून 2017 में रिलीज हुई थी. साथ ही वे करण जौहर की फिल्म ‘द ग़ाज़ी अटैक’ में भी देखने को मिले थे.

श्रीदेवी- जीरो

श्रीदेवी का कद हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में बहुत बड़ा था. उन्हें हिंदी सिनेमा की पहली महिला सुपरस्टार भी कहा जाता था. श्री देवी का अचानक से 24 फरवरी, 2018 को दुबई के एक होटल में निधन हो गया था. इस खबर ने देश-दुनिया को पूरी तरह से स्तब्ध कर दिया था.

श्री देवी की आख़िरी फ़िल्म जीरो थी. इस फ़िल्म में अहम रोल में दमदार अभिनेता शाहरुख़ खान, अभिनेत्री अनुष्का शर्मा और कैटरीना कैफ अहम रोल में थी. दिसंबर 2018 में रिलीज हुई यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप साबित हुई थी.

दिव्या भारती- शतरंज

90 के दशक की शुरुआत में यह नाम हर किसी की जुबान पर चढ़ा हुआ रहता था. महज छोटी सी उम्र और दो-तीन साल के छोटे से करियर में ही दिव्या भारती ने हिंदी सिनेमा में अपने नाम का डंका बजा दिया था. 1992 तक दिव्या ने तीन हिट फ़िल्में दे दी थी. महज 19 साल की छोटी उम्र में ही दिव्या ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था. 5 अप्रैल 1993 को उनकी अचानक मौत हो गई. दिव्या की मौत आज करीब 27 सालों के बाद भी रहस्य बनी हुई है. बता दें कि, दिव्या की मौत के बाद उनकी आख़िरी फ़िल्म 9 माह बाद रिलीज हुई थी, जिसका नाम शतरंज था.

स्मिता पाटिल- गलियों के बादशाह…

स्मिता पाटिल का नाम एक समय खूब सुर्ख़ियों में रहा था. स्मिता की मौत बेटे प्रतीक के जन्म के बाद प्रसव के दौरान कुछ समस्याओं के चलते हो गई थी. स्मिता ने प्रतीक को 28 नवंबर 1986 को जन्म दिया था और 13 दिसंबर को वे दुनिया छोड़ गई थी. उनकी आख़िरी फ़िल्म गलियों के बादशाह थी, जो कि 17 मार्च 1989 को रिलीज हुई थी. बता दें कि, स्मिता की शादी दिग्गज अभिनेता राज बब्बर से हुई थी.

सुशांत सिंह राजपूत- दिल बेचारा

इन सभी कलाकारों में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत सबसे चौंकाने वाली रही थी. सुशांत सिंह की मौत की ख़बर सुनकर हर कोई हैरान हो गया था. इस बात से हर कोई वाकिफ़ है कि, सुशांत ने 14 जून 2020 को मुंबई में अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. 34 साल की छोटी उम्र में ही सुशांत के दुनिया छोड़कर चले जाने से उनके तमाम फैंस को बहुत बड़ा झटका लगा है. अब भी उनके फैंस यह नहीं मानते है कि, उन्होंने अपने हाथों अपनी जिंदगी को ख़त्म कर लिया था.

अब तक यह भी साफ़ नहीं हो पाया है कि, सुशांत ने आत्महत्या की थी या उनकी मौत एक हत्या थी. उनके निधन के 7 माह बाद भी इस केस की जांच जारी है. बता दें कि, सुशांत सिंह राजपूत की अंतिम फ़िल्म दिल बेचारा थी, जो कि उनकी मौत के बाद रिलीज हुई थी. इसे कोरोना महामारी में सिनेमाघर बंद होने के चलते ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया गया था.

Back to top button
?>