राजनीति

आपके राज्य जिले और शहर में इस दिन लगेगी कोरोना वैक्सीन, सरकार ने जारी किया टाइमटेबल

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए देश में स्वदेशी वैक्सीन का टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है. इसके साथ ही केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने शेड्यूल भी जारी कर दिया है. इस शेड्यूल में ये बताया गया कि राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कब-कब हेल्‍थ वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा. सरकार से जारी निर्देश के अनुसार बड़े राज्‍यों को जहां हफ्ते में चार दिन टीकाकरण करने के आदेश दिए गए है, वहीं छोटे राज्‍यों को सप्‍ताह में दो दिन टीकाकरण अभियान चलाने के लिए बोला गया है.

आपको बता दें कि राज्‍यों ने अपनी जरुरत के मुताबिक टीकाकरण के दिन तय किए हैं. अब हम आपको बताने जा रहे है कि किस राज्‍य/केंद्रशासित प्रदेश में कब-कब कोरोना वैक्‍सीन लगाई जाएगी.

आंध्र में सिर्फ इस दिन को छोड़कर हर दिन लगेगा कोरोना का टीका
सरकार के निर्देश अनुसार बिहार और असम जैसे राज्‍यों ने हफ्ते में चार दिन टीकाकरण करने का फैसला लिया है. वहीं, आंध्र प्रदेश की बात की जाय तो यहाँ रविवार को छोड़ हर दिन वैक्‍सीन लगाई जाएगी.

देश की राजधानी दिल्‍ली में भी चार दिन तो गोवा में सिर्फ इतने दिन लगेगा वैक्सीन
केंद्रशासित प्रदेशों चंडीगढ़, दिल्‍ली, छत्‍तीसगढ़ जैसे आदि राज्‍यों में सप्‍ताह में चार दिन टीकाकरण होगा. वहीं गोवा की बात करें तो वह एक छोटा राज्य है, इसलिए वहां केवल शुक्रवार और शनिवार को ही टीके लगाए जाएंगे.

हिमाचल में इस दिन लगाया जाएगा टीका
देश के सबसे ठंडे इलाकों में से एक हिमाचल प्रदेश में केवल सोमवार और मंगलवार को वैक्‍सीन दी जाएगी. अन्य राज्यों जैसे कर्नाटक, जम्‍मू गुजरात, और कश्‍मीर, झारखंड में हफ्ते में चार दिन टीकाकरण अभियान चलेगा.

अन्य राज्यों के बारे में
मध्‍य प्रदेश, केरल, महाराष्‍ट्र, मणिपुर में सप्‍ताह में चार दिन टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा.

मिजोरम और ओडिशा में इस दिन लगेगी वैक्सीन
सिक्किम, पंजाब, राजस्‍थान में सरकारी निर्देशानुसार चार-चार दिन वैक्‍सीन लगेगी. वहीं, नगालैंड और ओडिशा जैसे राज्यों में हफ्ते में तीन दिन टीकाकरण होगा.

योगी के यूपी में केवल इतने ही दिन लगेगा टीका
देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में योगी सरकार ने केवल दो दिन टीकाकरण अभियान चलाने का फैसला लिया है. तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, उत्‍तराखंड में चार-चार दिन टीका लगाया जाएगा.

गौरतलब है कि कोरोना जैसी घातक महामारी ने पूरी दुनिया को लगभग 1 साल से अपनी जद में ले रखा है. लोग अपने घरों में रहने को मजबूर हुए. दुनिया में पहली बार इतना बड़ा कर्फ्यू लगाया गया. इस महामारी से लाखों लोगों की जान चली गई. कई लोगों के व्यापार और नौकरी चली गई. बच्चों के स्कूल बंद हो गए. अब जब देश में वैक्सीन अभियान शुरू हो चुका है तो लोगों में एक बार फिर से उम्मीद जागी है. आपको बता दें कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया था. देश में दो वैक्सीन इस वक़्त तैयार है, जिसे लगाने की मंजूरी मिल चुकी है. कोवैक्सीन और कोवोशील्ड दोनों ही कम से कम साइड इफेक्ट्स के साथ इस वायरस पर प्रभावी है. इनकी कम कीमत होने के कारण दूसरे देशों ने भी भारत से इसकी मांग की है.

Back to top button
?>