Viral

मॉडल बनने का सपना देखने वाली बेबी 5 साल से है पिंजरे में कैद, वजह जान रोने लगेंगे आप

फिलीपींस देश की एक लड़की को उसके परिवार वालों ने पांच सालों से जेल के अंदर बंद कर रखा है और किसी को भी उससे मिलने नहीं दिया जाता है। बिना किसी जुर्म के सजा काट रही बेबी 29 साल की है। बेबी जब पढ़ा करती थी। तो मॉडलिंग करने का सपना देखती थी। बेबी चाहती थी वो सुपर मॉडल बनें। लेकिन बेबी की जिदंगी को कुछ ओर ही मंजूर था और आज बेबी जेल के पीछे बंद हैं।

बेबी की हालत इतनी बुरी है कि उसके पास पहनने को कपड़े भी नहीं है और वो बोरे से बने हुए कपड़े को पहनती है। बेबी की जिदंगी की कहानी की आजकल खूब चर्चा हो रही है। दरअसल हाल ही में बेबी के किसी जान पहचान वाले ने उसकी वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दी थी। वीडियो में बेबी अपने घर में बनें एक पिंजरे में कैद थे और उसकी हालत काफी खराब नजर आ रही है।

वहीं इस पूरे मामले पर बेबी के परिवार वालों की सफाई भी आई है। बेबी के परिवार वालों ने बताया कि वो जब पढ़ाई कर रही थी, तो मॉडल बनने का सपना देखा करती थी। लेकिन पैसों की कमी के कारण उसका ये सपना सच न हो सका। जिसके कारण हालात कुछ ऐसे बने कि वो डिप्रेशन में रहने लगी। परिवार वालों ने बेबी का इलाज भी करवाया और उसे दवाइयां भी दी गई। जिसके बाद वो थोड़ी सही होने लगी। लेकिन बेबी के पिता की तबीयत अचानक से खराब हो गई।

बेबी के पिता घर में अकेले कमाने वाले शख्स थे। उनके बीमार होने से बेबी का इलाज नहीं करवाया जा सका। जिसके कारण बेबी की मानसिक हालत खराब हो गई। वो लोगों पर पत्थर फेंकने लगी। इतना ही नहीं पड़ोसियों पर हमला भी करने लगी। परिवार वालों ने बेबी को रोकने की काफी कोशिश की। लेकिन वो नहीं मानी। जिसके कारण परिवार वालों ने घर के अंदर एक पिंजरा बनवाया और उसके अंदर बेबी को बंद कर दिया। पांच सालों से बेबी इस पिंजरे के अंदर बंद है। उसे इसके अंदर ही खाना दिया जाता है।

बेबी के परिवार के एक सदस्य के मुताबिक बेबी पहले काफी खुशमिजाज लड़की थी। ये ग्रेजुएशन के करने के बाद मॉडल बनने का सपना देख रही थी। लेकिन 2004 में अचानक उसे डिप्रेशन के अटैक पड़ने लगे। वे मेंटली भी इतना बीमार हो गई कि अपने साथ-साथ दूसरों को भी नुकसान पहुंचाने लगी। बेबी के परिवार वालों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका इलाज किया गया। उसके ठीक होने के कुछ दिन बाद उसके पिता की तबीयत खराब हो गई। जिसके कारण पैसों की कमी हो गई और बेबी का इलाज बंद करना पड़ा।

बेबी के हिंसक व्यवहार को देखते हुए परिवार ने उसे पिंजरे में कैद कर दिया। लेकिन वो अपने पहने हुए कपड़ों को कभी चबा डालती तो कभी फाड़ देती। इसके बाद परिवार ने उसे बोरे से बने कपड़े पहनाने शुरू कर दिए। परिवार के पास इतना पैसे नहीं हैं कि वो बेबी का दोबारा इलाज करा सके। वहीं बेबी की वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है और परिवार के लोगों इसके इलाज के लिए फंडिंग करने की अपील की। ताकि बेबी का इलाज करवाया जा सके और वो पहले की तरह हो जाए।

Back to top button
?>