अपना उल्लू सीधा करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी की होर्डिंग्स लगाने वालों की अब खैर नहीं!

उत्तर प्रदेश में भारी बहुमत से बीजेपी की जीत के बाद हर तरफ खलबली मची है। इसके साथ ही इस पार्टी के साथ अपना नाम जोड़कर अपना हित साधने वालों की संख्या में भी काफी इजाफा हुआ है। प्रदेश के हर छोटे-बड़े शहर में मोदी और योगी की फोटो के साथ अपनी फोटो लगाकार उन्हें जीत की बधाई देते हुए कई सारे होर्डिंग्स देखने को मिल रहे हैं। ऐसे छुटभैया नेताओं की इस समय प्रदेश में बाढ़ सी आ गयी है।

जिसे देखो वही खुद को बीजेपी का हितैषी बता रहा है। ऐसे में पार्टी के बड़े नेताओं ने ऐसा करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की योजना बनाई है। बीजेपी के महानगर अध्यक्ष राकेश शर्मा ने कहा कि बीजेपी की जीत के बाद प्रदेश में ऐसे होर्डिंग्स लगाने वालों की बाढ़ आ गयी है। वह बीजेपी की होर्डिंग्स लगाकर अपना हित साधने की फिराक में हैं। कुछ लोग हैं जो पार्टी से जुड़े हुए हैं, बाकी इनमें से कुछ ऐसे लोग भी हैं, जिनका पार्टी से दूर-दूर तक कोई लेना-देना नहीं है।

खुद को दिखाना चाहते हैं बीजेपी का हितैषी:

सभी जानते हैं कि प्रदेश में योगी सरकार कुछ चीजों को लेकर काफी सख्त है। ऐसे में उनका सोचना है कि उन्हें होर्डिंग्स लगाने से फायदा हो सकता है। शर्मा ने आगे कहा कि ये वही लोग हैं जो खुद को बीजेपी से जोड़कर दिखाना चाहते हैं और समय आने पर अपना उल्लू सीधा करना चाहते हैं। पिछली सरकार सपा और बसपा की नीतियों को बीजेपी चलने नहीं देगी।

करायी जा सकती है एफआईआर दर्ज:

प्रदेश में बीजेपी की सरकार है, ऐसे में बदलाव दिखना चाहिए। इसलिए पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को यह निर्देश दिया गया है कि वह पार्टी की मर्यादा के साथ खिलवाड़ ना करें, उन्हें अनुशासन में रहना होगा। अगर ये छुटभैये नेता नहीं सुधरते हैं तो उन पर उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि अगर वह समझ जाते हैं तो ठीक, वरना जरूरत पड़ने पर उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.