ब्रेकिंग न्यूज़

पुलिस वालों ने पेश की नेकदिली की मिसाल, दिव्यांग ऑटो चालक की EMI भर बचाया उसका ऑटो

सभी लोगों के मन में पुलिस वालों के प्रति छवि काफी नकारात्मक है। ज्यादातर लोगों की यही धारणा रहती है कि हमेशा पुलिस वाले लोगों को परेशान करते हैं परंतु ऐसा नहीं है। दरअसल, कुछ पुलिसवालों की हरकतों के कारण सभी पुलिसवाले बदनाम हो जाते हैं। लेकिन सभी एक जैसे नहीं हैं। आप लोगों ने भी ऐसी बहुत सी खबरें सुनी होंगी, जिसमें किसी पुलिस वाले ने जरूरतमंद व्यक्ति की सहायता की हो। आज हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप भी तारीफ करेंगे। आपको बता दें कि पुलिस वालों ने एक दिव्यांग ऑटो चालक की ईएमआई (EMI) भरकर उसका ऑटो बचाया है। जी हां, आपने बिल्कुल सही सुना, यह मामला मध्यप्रदेश का है, जहां पर पुलिस वालों ने एक दिव्यांग ऑटो ड्राइवर के लिए जो किया उसकी जितनी तारीफ की जाए उतनी ही कम है।

आप सभी लोगों ने ज्यादातर पुलिस वालों को ऑटो ड्राइवर पर डंडे बरसाते हुए ही देखा होगा परंतु आज हम आपको एक ऐसे मामले से रूबरू करवाने जा रहे हैं जिसमें एक दिव्यांग ऑटो चालक का ऑटो फाइनेंस वाले ईएमआई ना जमा करने पर जब्त करने वाले थे। जैसे ही इस सारी घटना के बारे में पुलिस वालों को पता चला तो वह किसी तरह उस दिव्यांग का ऑटो वापस दिलवाने में उसकी सहायता करने लगे। तो चलिए जानते हैं इस पूरे मामले के बारे में

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के सिवनी से एक मामला सामने आया है। जहां पर एक दिव्यांग ऑटो चालक ऑटो चला कर अपना जीवन किसी तरह व्यतीत करता है। इस ऑटो चालक का नाम शकील है। कुछ समय पहले दिव्यांग ऑटो चालक शकील ने एक फाइनेंस कंपनी के माध्यम से एक ऑटो खरीदा था, परंतु कोरोना महामारी की वजह से इसको काफी दिक्कत होने लगी। इसकी कमाई भी बेहद कम हो गई, जिसकी वजह से यह सिर्फ 35000 की EMI नहीं भर पाया। समय पर ईएमआई ना पहुंचने की वजह से फाइनेंस वालों ने दिव्यांग ऑटो चालक का ऑटो जब्त कर लिया। जब इस पूरे मामले के बारे में सिवनी के कोतवाल महादेव को जानकारी हुई तो उन्होंने तुरंत ही एक्शन लिया। शकील के पास पहुंचकर पूरी घटना के बारे में उन्होंने जानकारी प्राप्त की, जिसके बाद इन्होंने फाइनेंस कंपनी से संपर्क किया था।

खबरों के अनुसार ऐसा बताया जा रहा है कि सिवनी के कोतवाल महादेव ने अपने थाने के स्टाफ के साथ मिलकर ना सिर्फ शकील का ऑटो वापस दिलवाया था बल्कि उस दिव्यांग ऑटो ड्राइवर के ऑटो की EMI भी उन्होंने भर दी थी। पुलिस वालों के इस काम की हर तरफ चर्चा हो रही है। इन पुलिस वालों ने नेकदिली की मिसाल पेश की है। ऐसा भी बताया जा रहा है कि सिवनी थाने के कोतवाल महादेव अक्सर जरूरतमंद लोगों की सहायता करते रहते हैं। कोरोना महामारी के बीच जब लॉक डाउन का ऐलान हुआ था तो गरीब लोगों की मदद के लिए यह सामने आए थे। रिपोर्ट के अनुसार हाल ही में महादेव जी ने पांच निर्धन बच्चियों के नाम पर 25-25 हजार रुपये की एफडी करवाई थी। महादेव जी जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए हमेशा आगे रहते हैं।

Back to top button