समाचार

सुशांत और कोरोना ने कर दी बॉलीवुड की हालत पतली, बीते 6 महीनों में हुआ इतने हजार करोड़ का नुकसान

कोरोना वायरस (Corona Virus) ने देश की अर्थव्यवस्था को बहुत नुकसान पहुंचाया है। इसमें बॉलीवुड इंडस्ट्री को भी बड़ा नुकसान हुआ है। कोरोना की वजह से कई फिल्मों की रिलीज टल गई तो कई फ्लोर पर रखी फिल्में बीच में ही बंद पड़ गई। उधर जो फिल्में बनकर रेडी थी वो भी कोरोना की वजह से सिनेमाघर का मुंह नहीं देख सकी। ऐसे में कई मेकर्स ने कम पैसों में यह फिल्में ओटीटी प्लाटफार्मों को बेच दी। इसके अलावा सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद लोगों का बॉलीवुड की तरफ गुस्सा और भी बढ़ गया। नेपोटिज्म को लेकर एक बहस छिड़ गई। नतिजन लोगो ने स्टार किड्स की फिल्मों का बहिष्कार करना शुरू कर दिया।

हुआ इतने करोड़ का नुकसान

सूत्रों के अनुसार पिछले 5 से 6 महीनों में इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को लगभग 10 हजार करोड़ रूपए का घाटा हुआ है। सिर्फ बॉक्स ऑफिस पर ही करीब पौने 4 हजार करोड़ रूपए का नुकसान हुआ है। बता दें कि बॉक्स ऑफिस पर हर साल 5500 करोड़ से 6000 करोड़ रुपए तक का टर्नओवर आता है। हालांकि सिनेमाघर बंद होने की वजह से यह जीरो पर आ गया है। पहले फिल्में सिनेमाघरों में कमाई करती थी और फिर उनके सैटेलाइट और ओटीटी राइट्स बेच 8000-9000 करोड़ रूपए अलग से मिल जाते थे। वहीं 300-400 करोड़ तो अकेले म्यूजिक वर्ल्ड से ही कमा लिए जाते थे।

सुशांत की मौत भी हैं एक वजह

अब कोरोना काल में ओटीटी वाले भी फिल्मों के राइट्स कम कीमत पर खरीद रहे हैं। उधर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से बॉलीवुड को लेकर नेगेटिव महोल भी है। इस कारण लोग ओटीटी प्लेटफार्म पर भी फिल्म देखने में कोई उत्साह नहीं दिखा रहे हैं।

सिनेमाघर और टेक्नीशियनों को भी हुआ नुकसान

इस साल लगभग 40-45 फिल्में फ्लोर पर जाने वाली थी, लेकिन कोरोना की वजह से ये प्रोजेक्ट एक दो साल के लिए टाल दिए गए। इन प्रोजेक्ट्स पर कई गरीब और मिडिल क्लास टेक्नीशियन, गरीब जूनियर आर्टिस्ट और डांसर्स काम करते थे। इसके अलावा कई मुख्य या साइड एक्टर्स भी ऐसे हैं जिन्हें लॉकडाउन में आर्थिक तंगी का सामना देखना पड़ा है। वहीं इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों की बात करें तो उनके भी खाने पीने के लाले पड़ गए।

वहीं सिनेमाघरों में काम करने वाले लोगों का भी बुरा हाल है। अकेला पीवीआर पिछले पांच महीनों से 75 करोड़ रुपए के बोझ के तले दबा है। अनलॉक 4 स्टार्ट हो गया है लेकिन सिनेमाघरों को खोलने की अभी भी इजाजत नहीं मिली है।

Back to top button