समाचार

6 महीने प्रेग्नेंट निकली नाबालिग बच्ची, रोते हुए सुनाई सामूहिक दुष्कर्म की पूरी कहानी..

देश में बलात्कार की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। यहां हर साल सैकड़ों रेप के मामले सामने आते हैं। इनमें से भी कई मामले तो ऐसे होते हैं जो पुलिस थाने में रजिस्टर भी नहीं होते हैं। पीड़िता डर या बदनामी के चलते पुलिस में शिकायत नहीं करती है। यही चीज आरोपियों को और हिम्मत देती है। अब उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) जनपद के बाबूपुरवा थाना क्षेत्र की घटना को ही ले लीजिए। यहां एक 15 वर्षीय किशोरी के पेट में तेज़ दर्द उठा। जब माता पिता उसे हॉस्पिटल ले गए तो पता चला कि लड़की 6 महीने पेट से है।

बच्ची को हो रहा था पेट दर्द, निकली प्रेग्नेंट

दरअसल बाबूपुरवा थाना क्षेत्र में रहने वाले वाहन चालक की बेटी को पिछले कुछ दिनों से पेट दर्द और उल्टी होने की शिकायत थी। ऐसे में जब परिवार वाले उसे डॉक्टर के पास ले गए तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। डॉक्टर ने जांच कर पेरेंट्स को बताया कि आपकी बच्ची 6 महीने की प्रेग्नेंट है। यह सुन माता पिता के होश उड़ गए। जब उन्होने बच्ची से इस बारे में पूछा तो सच्चाई जान हर कोई हैरान रह गया।

3 लोगों ने किया था गैंगरेप

लड़की ने बताया कि कुछ समय पहले उसके साथ 3 लोगों ने मिलकर गैंगरेप किया था। तब लड़की बहुत डर गई थी और बदनामी के चलते उसने यह बात किसी को नहीं बताई थी। इसके बाद बच्ची के परिवार वाले सीधा पुलिस स्टेशन गए और आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा दी।

पुलिस ने किया बलात्कारियों को अरेस्ट

बच्ची के परिवार वालों का कहना है कि फरवरी माह में मोहल्ले के तीन लड़के बच्ची को बहला फुसला कर अपने साथ ले गए थे। उन्होने एक मैदान में ले जाकर बच्चे के साथ गैंग रेप किया। परिवार की शिकायत के बाद पुलिस ने 6 लोगों को हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ की। डीआईजी प्रीतिंदर सिंह के अनुसार 3 मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

इस मामले की तरह देश में और भी कई घटनाएं होती है जिसमें रेप के मामले दर्ज नहीं हो पाते हैं। ऐसे में आपको भी इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि ऐसी कोई भी घटना होने पर इसकी शिकायत पुलिस में लिखवाना जरूरी होता है। यदि आप आज किसी आरोपी को जाने देंगे तो कल वो किसी अन्य लड़की या बच्ची को भी अपनी हवस का शिकार बना सकता है। इसलिए ऐसे दरिंदों को सबक सीखना बेहद जरूरी हो जाता है।

Back to top button
?>