बॉलीवुड

कभी कुमार गौरव की बनी थीं महबूबा, आज ऐसी हो गई बॉलीवुड एक्ट्रेस विजेता पंडित की जिंदगी

बॉलीवुड में कलाकारों का आना-जाना लगा रहता है। इनमें से कई के चेहरे मशहूर हो जाते हैं, जबकि कई गुमनामी के अंधेरे में कहीं खो जाते हैं। वैसे, बॉलीवुड में आने वाले कई चेहरे ऐसे होते हैं, जो पहली ही नजर में मन को मोह लेते हैं। एक ऐसा ही चेहरा अभिनेत्री विजेता पंडित का भी था, जो बाद में गायिका बन गईं। फिल्म लव स्टोरी से बॉलीवुड में विजेता पंडित ने डेब्यू किया था।

25 अगस्त को 1967 में विजेता पंडित का जन्म हुआ था। वे अपना 53वां जन्मदिन मनाने जा रही हैं। विजेता के जन्मदिन के अवसर पर हम आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जो कि बेहद दिलचस्प हैं।

संगीत घराने से नाता

विजेता पंडित 80 के दशक की जानी-मानी अभिनेत्रियों में से एक रही हैं। मुंबई में एक जाने-माने संगीत घराने में वे जन्मी थीं। विजेता पंडित के पिता नरेन पंडित भी एक मशहूर संगीतकार हुआ करते थे। पंडित जसराज, जिनका हाल ही में निधन हुआ है, वे विजेता पंडित के चाचा थे।

विजेता पंडित सात भाई-बहन हैं, जिनके नाम ललित पंडित, माया पंडित, संध्या पंडित, मनधीर पंडित, सुलक्षणा पंडित और जतिन पंडित हैं। विजेता पंडित की बहन सुलक्षणा पंडित भी बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकाराओं में से एक रही हैं। उन्हें 1975 से 1988 तक फिल्मों में देखा गया था। बॉलीवुड के जाने-माने संगीतकार के रूप में विजेता पंडित के भाई ललित पंडित और जतिन पंडित ने भी अपनी पहचान बनाई है।

कुमार गौरव से जुड़ा रिश्ता

लोकप्रिय फिल्म अभिनेता और निर्देशक राजेंद्र कुमार के बेटे कुमार गौरव 1980 में बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रहे थे। ऐसे में उनके अपोजिट किसी नए चेहरे की तलाश की जा रही थी। इसी दौरान विजेता पंडित को फिल्म में ले लिया गया था। इस तरह से विजेता पंडित की पहली फिल्म लव स्टोरी 1981 में रिलीज हुई थी। बॉक्स ऑफिस पर इस फिल्म ने धूम मचा कर रख दिया था। केवल फिल्म ही नहीं, इसके बाद असल जिंदगी में भी कुमार गौरव और विजेता पंडित की जोड़ी बन गई थी। इन दोनों ने एक साथ 15 से भी अधिक फिल्मों में काम किया।

जब फिल्म लव स्टोरी की शूटिंग चल रही थी, उसी दौरान कुमार गौरव और विजेता पंडित को एक-दूसरे से प्यार हो गया था। दोनों शादी करके घर बसाना चाहते थे। हालांकि, कुमार गौरव के पिता राजेंद्र कुमार को यह रिश्ता मंजूर नहीं था। कुमार गौरव भी दोनों परिवारों के खिलाफ जाकर शादी करने के पक्ष में नहीं थे। यही वजह रही कि दोनों के रास्ते आपसी सहमति से जुदा हो गए।

बाद में सुनील दत्त की बेटी नम्रता से कुमार गौरव ने 1984 में शादी रचा ली। कुमार गौरव से जब विजेता पंडित का ब्रेकअप हो गया तो इसके बाद वे 4 वर्षों तक अपने घर पर ही रहीं। विजेता पंडित ने वापसी फिल्म मोहब्बत और मिसाल से वर्ष 1985 में की। विजेता पंडित ने जब फिल्मों में वापसी की तो इस बार उन्हें ज्यादा कामयाबी नहीं मिल पाई। फिर उन्होंने 1986 में फ़िल्म निर्देशक समीर माखन से ब्याह कर लिया। हालांकि, उनकी शादी चंद दिनों की ही मेहमान रही। दोनों के बीच आपसी मतभेद इतने ज्यादा बढ़ गए कि आखिरकार इन दोनों ने अलग हो जाना ही ठीक समझा।

आदेश से जुड़ा रिश्ता

विजेता पंडित के भाई भी संगीत से जुड़े रहे हैं। इस वजह से लोकप्रिय गीतकार आदेश श्रीवास्तव विजेता के घर आते-जाते थे। ललित और जतिन पंडित से उनकी बहुत ही अच्छी दोस्ती हुआ करती थी। यही वजह रही कि जब विजेता का तलाक हो गया तो आदेश श्रीवास्तव ने 1990 में उनसे शादी कर ली। इनके दो बेटे अनिवेश श्रीवास्तव और अवितेश श्रीवास्तव हैं।

वर्ष 2015 में विजेता पंडित के पति आदेश श्रीवास्तव दुनिया छोड़कर चले गए। इसके बाद से विजेता पंडित की आर्थिक स्थिति भी चरमरा गई। दो बच्चों को पालने की जिम्मेवारी उनके कंधों पर थी। विजेता पंडित तब से आर्थिक तंगी का सामना कर रही हैं।

पढ़ें वायरल हुआ सिद्धार्थ शुक्ला का 13 साल पुराना वीडियो, शायराना अंदाज में दिखे बिग बॉस 13 के विजेता

Show More
Back to top button