बॉलीवुड

8 जून पार्टी में दिशा के साथ बड़े लोगों ने किया था दुर्व्यवहार, सुशांत को फ़ोन कर के बतायी थी बात

सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर रोज नए नए राज़ उजागर हो रहे हैं। इस मौत को सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत के साथ जोड़कर भी देखा जा रहा था। अब इस बीच ‘इन्साफ SSR’ नाम का एक अभियान चलाने वाले कार्यकर्ता प्रशांत कुमार ने चौंकने वाला खुलासा किया है। दरअसल प्रशांत हाल ही में रिपब्लिक टीवी पर ‘The Debate with Arnab Goswami’ में शामिल हुए थे। यहां उन्होने दावा कर बताया कि उन्हें एक अंजान नंबर से कॉल आया था। कॉल करने वाला शख्स खुद को दिशा का दोस्त बता रहा था। उसने प्रशांत को एक पार्टी के बारे में सूचना दी जो कथित रूप से 8 जून को हुई थी। याद दिला दें कि ये वही दिन है जब दिशा ने खुदखुशी की थी। हालांकि बाद में इसे पांव फिसल गलती से गिरने से हुई आकस्मिक मौत का नाम दिया गया।

पार्टी में दिशा संग हुई थी बदतमीजी

अर्नब गोस्वामी के डिबेट में प्रशांत ने बताया कि मुझे एक शख्स का कॉल आया था जो कि दिशा का दोस्त होने का दावा कर रहा था। उस शख्स ने मुझे बताया कि मैं परेशान हूं, मदद करना चाहता हूं लेकिन डर से कर नहीं पा रहा हूं। शख्स को मेरा नंबर कहीं से मिल गया था क्योंकि मैं ‘इंसाफ SSR’ अभियान चला रहा था। प्रशांत आगे कहते हैं कि उस शख्स ने कहा कि मैं हेल्प करना चाहता हूं लेकिन मैं मुंबई में रहता हूं इसलिए बहुत डरा हुआ हूं। शख्स ने प्रशांत को बताया कि 8 जून को दिशा एक पार्टी में गई थी। इस पार्टी में कई मशहूर हस्तियां और राजनेता भी शामिल थे। वहां किसी ने दिशा के साथ दुर्व्यवहार किया था।

सुशांत को दिशा ने दी थी जानकारी

प्रशांत आगे कहते हैं कि खुद को दिशा का दोस्त बताने वाले शख्स ने कहा कि दिशा ने सुशांत को पार्टी में अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया था। ऐसे में सुशांत ने उन्हें उस पार्टी से निकलने के लिए कहा था। उन्होने यह भी बोला था कि वे इस मामले को देखेंगे और उस पर एक्शन भी लेंगे। हालांकि इसके कुछ समय बाद संदीप (एस सिंह) का सुशांत को कॉल आया और उसने एक्टर को सूचना दी कि दिशा ने सुसाइड कर लिया है। यह खबर सुन सुशांत हैरान थे, उन्हें इस पर यकीन नहीं हुआ था। शख्स ने आगे कहा कि अगले दिन रिया और सुशांत चक्रवर्ती के बीच लड़ाई हुई थी। रिया सुशांत की सुनने को तैयार नहीं थी और वहां से चली गई थी। इसके बाद जो हुआ वो सभी जानते हैं। बता दें कि जब प्रशांत यह दावे कर रहे थे तब बिहार के डीजीपी भी पैनल पर थे।


इसके पहले जब बिहार पुलिस शनिवार को दिशा सालियान सुसाइड केस की जानकारी लेने मलाड के मालवानी पुलिस स्टेशन गयी थी तो वहां भी अजीब वाक्या हुआ। पहले मुंबई पुलिस ने जानकारी साझा करने के लिए हां बोला लेकिन एक कॉल आने के बाद बोलने लगी कि ‘दिशा की डिटेल्स वाला फोल्डर ‘अनजाने में डिलीट हो गया’। इसके बाद जब बिहार पुलिस ने खुद फ़ाइल को खोजने की पेशकश की तो उन्हें लैपटॉप का उपयोग नहीं करने दिया गया। दरअसल सुशांत और दिशा के बीच की मौत की कड़ी को समझने के लिए बिहार पुलिस दिशा सालियान का केस फिर ओपन करना चाहती है।

Back to top button