ब्रेकिंग न्यूज़

Breaking News : ताहिर हुसैन ही था दिल्ली दंगो का मास्टरमाइंड, पुलिस के सामने कबूला गुनाह

दिल्ली में हिंसा भड़काने के आरोप में पुलिस के हत्थे चढ़ा निलंबित आप पार्षद ताहिर हुसैन ने पूछताछ में एक बड़ा खुलासा कर दिया है। अब तक अपने आप को निर्दोष बताने वाले ताहिर ने आखिरकार अपना जुर्म कबूल कर लिया है, अपने कबूलनामे में कहा कि उसने खालिद सैफी और पीएफआई के साथ मिलकर दंगो और हिंसा की साजिश रची थी। 

पूछताछ के दौरान ताहिर ने बताया कि उसके एक जानने वाले खालिद सैफी भड़काते हुए हिंसा में राजनैतिक रसूक और पैसे लगाने की बात कही। ताहिर के अनुसार खालिद उसे हर दम उकसाता रहता था। यही नहीं कश्मीर से धारा 370 हटने के के बाद भी खालिद ताहिर के पास आया था।

उसने ताहिर से कहा था कि वो अब इस बार चुप नहीं बैठेंगे। उसी दौरान राम मंदिर और सीएए कानून पर भी कोर्ट का फैसला आ चुका था। इन फैसलों से उनके अंदर पनप रही नफरत ने और विकराल रूप ले लिया उन्हें लगा कि पानी सिर से ऊपर जा चुका है और कुछ कदम उठाना पड़ेगा।

ताहिर के अनुसार इसके बाद 8 जनवरी को जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद के साथ खालिद सैफी ने शाहीन बाग में पीएफआई के दफ्तर में उसकी मीटिंग करवाई। इसी बैठक में उमर ने ताहिर से कहा कि अब वो मरने मारने को तैयार है। इसके साथ ही खालिद सैफी ने उससे कहा कि हिंसा में पीएफआई का एक सदस्य आर्थिक मदद करेगा।

इसके बाद पीएफआई के दफ्तर से ही दिल्ली को जलाने की योजना तैयार की गई, ताहिर के अनुसार वो कुछ ऐसा करना चाहते थे जिससे सरकार हिल जाए। वहीं उसने कहा कि लोगों को सड़कों तक लाने में खालिद सैफी ने अहम भूमिका निभाई थी। 

Related Articles

Back to top button