रिलेशनशिप्स

5 टाइप के होते हैं मर्दों के लव अफेयर्स, आपका पति इनमें से कोई करे तो उठाएं ऐसा कदम

किसी भी शादी को लंबे समय तक चलाने के लिए पति पत्नी के बीच आपसी समझ, प्यार, ईमानदारी और वफादारी का होना बेहद जरूरी होता है। यदि रिश्तों में यह बेसिक चीजें न हो तो उसे टूटते देर नहीं लगती है। शादी के बाद अक्सर मर्द लोग पराई औरत देख फिसल जाते हैं। हालांकि हर बार यही चक्कर नहीं होता है। कुछ मामलों में जबरन शादी, रोमांस की कमी या मन मुटाव भी पति के एक्सट्रा मैरिज अफेयर की वजह बन जाते हैं। ऐसे में हर पत्नी को यह जानना चाहिए कि पतियों के यह लव अफेयर्स भी किस किस टाइप के होते हैं। जब आप आपके पति के लव अफेयर का टाइप जान लेंगी तो उस सिचुएशन से डील करना आसान हो जाएगा।

सच्चा प्यार

इस तरह का लव अफेयर शारीरिक संबंध वाले अफेयर से भी ज्यादा खतरनाक होता है। इसमें पति को एक पराई महिला से सच्चा प्यार हो जाता है। वो उसके लिए बहुत कुछ फील करने लगता है। इस चक्कर में उसका अपनी पत्नी के प्रति प्रेम कम होने लगता है। यहां तक कि वो अपनी पत्नी से शारीरिक संबंध बनाने से भी हिचकता है। उसके दिमाग में वही औरत चलती रहती है। कई मामलों में ये औरत पति का पहला प्यार भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में बीवी को पति से साफ पूछ लेना चाहिए कि वो अपने इस पराए प्यार को भुला सकता है या नहीं। यदि उसका जवाब ना में हो तो तलाक लेकर आगे बढ़ जाने में ही समझदारी है।

शारीरिक संबंध

इस टाइप के अफेयर में पति को पराई औरत से सिर्फ संबंध बनाने का लालच ही रहता है। वो उस से प्रेम नहीं करता है। बस टाइम पास या मजे के लिए उसके साथ संबंध बना लेता है। इस स्थिति में पत्नी पर बात आकर टिक जाती है। यदि वो अपने पति को एक मौका देना चाहती है तो दे सकती है। यदि वो आपके साथ बाद में भी वफादार रहता है तो आपका घर टूटने से बच सकता है। हालांकि यदि वो अपनी गलती बार बार दोहराए तो उसे छोड़ देने में ही भलाई होती है।

इमोशनल बॉंडिंग

इस टाइप के अफेयर में पति को बस पराई महिला से हमदर्दी रहती है। वो उसके हित में सोचता है और उसकी भलाई में लगा रहता है। उसे उस महिला के साथ मिलना और अपनी बातें शेयर करना अच्छा लगता है। इस टाइप के अफेयर की वजह से पति पत्नी के साथ भावनात्मक रूप से दूर होने लगता है। ऐसे में पत्नी को पति से साफ पूछ लेना चाहिए कि वो इस शादी को जारी रखना चाहता है या नहीं।

एक तरफा प्यार

जब पति का किसी महिला के साथ ज्यादा उठना बैठना या मिलना जुलना होता है तो वो उसकी तरफ आकर्षित होने लगता है। इसमें वो महिला तो आपके पति से प्रेम नहीं करती है लेकिन वो उसके प्यार में शेख-चिल्ली के सपने देखने लगते हैं। इस स्थिति में पति न तो पराई महिला से अपने प्रेम का खुलकर इजहार कर पाता है और न ही अपनी पत्नी को छोड़ पाता है। ऐसे में पत्नी अपने पति को एक वार्निंग देकर दूसरा मौका दे सकती है।

कठिनाइयों में साथ

इस तरह के लव अफेयर जीवन में आई मुश्किलों में पनपते हैं। जैसे पति की मां या करीबी दोस्त की मौत, स्वास्थ्य संकट, नौकरी का छूट जाना इत्यादि। इस सिचुएशन में यदि उसे कोई महिला पार्टनर सपोर्ट करती हुई मिल जाए तो उसे प्रेम हो जाता है। वहीं एक अफेयर ऐसा भी होता है जिसमें पति एक मुश्किल परिस्थिति में फंसी महिला की मदद करने लगता है और दोनों में प्रेम हो जाता है। इस स्थिति में बीवी को पति को चेतावनी या इमोशनल सपोर्ट देना चाहिए। एक मौका देकर देखे। यदि वो सुधार जाए तो ठीक वरना टाटा बाय बाय कर लें।

Related Articles

Back to top button