जानिए, 1 अप्रैल 2017 से बदल जाएंगे बैंक के ये नियम , अगर आप का बैंक में खाता है तो जान ले यहां ..!

नई दिल्ली – नए वित्तीय वर्ष यानी 1 अप्रैल से SBI, HDFC​, ICICI और Axis Bank के कई नियम बदलने जा रहे हैं। इनमें सबसे ज्यादा बदलाव भारतीय स्टेट बैंक के नियमों में हो रहा है। अगर आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अकाउंट होल्डर हैं तो यह खबर आपके लिए है। नए नियमों के तहत कैश ट्रांजैक्शन्स करने की तय सीमा से अधिक बार ट्रांजैक्शन करने पर अतिरिक्त चार्ज वसूला जाएगा। इसके अतिरिक्त बैंकों ने कुछ ऐसी सेवाओं पर भी चार्ज लगा दिये हैं जो पहले फ्री हुआ करती थीं। तो आइए, आपको बता दें कि क्या है इन बैंको के नए नियम। Bank rules change from 1 april.

मिनिमम बैलेंस रखना अब होगा जरूरी –

1 अप्रैल से हर अकाउंट होल्डर के लिए अपने बैंक खाते में मिनिमम अकाउंट बैलेंस रखना अनिवार्य होगा। ऐसा नहीं करने पर बैंक आपके एकाउंट से पैसे काटेगा। हालांकि, यह मिनिमम बैलेंस बड़े शहरों के लिए अलग और छोटे व ग्रामीण इलाकों के लिए अलग होगा। अगर 1 अप्रैल के बाद से आपके खाते के मासिक औसत बकाया (मिनिमम अकाउंट बैलेंस) नहीं है तो आप पर 100 रुपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। एसबीआई के नए नियम के मुताबिक बड़े शहरों में न्‍यूनतम बैलेंस 5000 रुपए, छोटे शहरों के लिए 3,000 रुपए, अर्द्ध-शहरी इलाकों के लिए 2,000 रुपए व ग्रामीण इलाकों के लिए 1,000 रुपए है।

SBI ने अपने नियमों में किए ये बदलाव –

1 अप्रैल 2017 से SBI के अकाउंट होल्डर्स महीने में सिर्फ 3 बार अपने अकाउंट में फ्री में पैसे जमा कर सकेंगे। इसके बाद अगले हर डिपॉजिट पर अकाउंट होल्डर्स को 50 रुपए और सर्विस चार्ज देना होगा। वहीं डेबिट कार्डधारकों से SMS अलर्ट भेजने के लिए हर महिने 15 रुपए का चार्ज वसूला जाएगा। इसके अतिरिक्त एक महीने में दूसरे बैंक के एटीएम से सिर्फ 3 बार फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं, इससे अधिक पर आपको हर ट्रांजेक्शन पर 20 रुपए देना होगा। जबकि, एसबीआई के एटीएम से ही पैसे निकालने पर आप पांच बार टैक्स फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं।

एटीएम चार्ज से बचने के लिए ये हैं तरीकें –

25,000 रुपए से अधिक का बैलेंस रखने पर आप एटीएम पर लगने वाले अतिरिक्त चार्ज से बच सकते हैं। जिसका मतलब है कि अगर आपके खाते में 25,000 से अधिक का बैलेंस है तो आप चाहे जितनी बार एसबीआई के एटीएम से पैसे निकालें आप पर कोई चार्ज लागू नहीं होगा। इसके अलावा, अगर आपके खाते में 1 लाख रुपए से अधिक हैं तो आपको दूसरे बैंकों के एटीएम से भी पैसे निकालने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा। आपको बता दें कि 1 अप्रैल 2017 से एसबीआई के 5 सहायक बैंकों – स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और स्टेट बैंक ऑफ पटियाला का एसबीआई में विलय हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.