ब्रेकिंग न्यूज़

मुठभेड़ में मारे गए प्रेम की पत्नी का खुलासा, कहा-विकास दुबे ने नहीं विनय तिवारी ने सबको मरवाया

एनकाउंटर में मारे गए प्रेम प्रकाश की पत्नी सुषमा ने चौंकने वाला खुलासा किया है। प्रेम प्रकाश की पत्नी सुषमा के अनुसार बिकरू हत्याकांड में पूर्व चौबेपुर एसओ विनय तिवारी की अहम भूमिका थी और इसकी वजह से ही पुलिसवाले मारे गए थे।  सुषमा का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें ये कहती हुई नजर आ रही है कि पूर्व चौबेपुर एसओ विनय तिवारी, दरोगा केके शर्मा समेत थाने के तमाम पुलिसकर्मी आए दिन विकास के घर जाते थे। ये सभी विकास से पैसे लिया करते थे। इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी विकास नहीं बल्कि विनय हैं। आपको बता दें कि प्रेम प्रकाश पांडेय विकास का मामा था, जो कि मुठभेड़ में मारा जा चुका है।

विकास के पैसों से खाते थे सब्जी

सुषमा ने विनय तिवारी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि ये सब्जी तक के पैसे विकास से लेता था और इसी ने सबको मरवा डाला। सुषमा की वायरल हो रही वीडियो के बाद से फिर से पुलिस प्रशासन पर सवाल खड़े हो गए हैं। सुषमा से पहले विकास दुबे के ममेरे भाई शशिकांत की पत्नी मनु का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। जिसमें ये विकास को जल्लाद कह रही थी। वीडियो में जब पुलिस वाला कुछ कहता है तो मनु उससे कहती है विकास दुबे का दूसरा नाम नहीं पता क्या? जल्लाद है। वहीं अब इस केस से जुड़ी एक और वीडियो सामने आई है।

पुलिस की हिरासत में है विनय तिवारी

विनय तिवारी इस समय पुलिस की हिरासत में है। बिकरू कांड के कुछ दिनों बाद ही इसे गिरफ्तार कर लिया गया था। पुलिस के अनुसार विनय तिवारी को इस हत्याकांड में आरोपी पाया गया है। दरअसल जिस रात बिकरु गांव में पुलिस की टीम गई थी। उसमें विनय तिवारी भी शामिल था। पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो पाया कि विकास को विनय तिवारी की और से पुलिस के आने की खबर दी गई थी। जिसके बाद विकास दुबे ने अपने बदमाशों को घर में बुला लिया था। वहीं जैसे ही पुलिस विकास के घर पहुंची तो उसने पुलिस पर हमला कर दिया।

इस हमले में विनय तिवारी और उसके अन्य पुलिस साथियों को जरा सी भी चोट नहीं आई। वहीं पुलिस ने जांच में पाया कि विनय विकास दुबे के साथ मिला हुआ था। विनय के अलावा निलंबित दरोगा केके शर्मा पर भी विकास दुबे के मुखबिरी होने का आरोप लगा है।

बिकरू कांड के आरोपी अमर दुबे की शादी का एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें दरोगा केके शर्मा विकास दुबे के साथ नजर आ रहा था। दरोगा ने अमर दुबे के साथ भी फोटो खिंचवाई थी। साथ में ही वर वधू को आशीर्वाद भी दिया था।

गौरतलब है कि बिकरु कांड के बाद से विकास दुबे फरार था और उसे उज्जैन से पकड़ा गया था। जिसके बाद कानपुर लाते समय इसका एनकाउंटर कर दिया गया था। इस मामले में विकास के अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया गया है। जबकि कई साथियों का एनकाउंटर कर दिया गया है। विकास दुबे के मारे जाने के बाद से कई सारी वीडियो सामने आ रही हैं। जिनमें विकास से जुड़े साथियों के नामों का खुलासा हो रहा है।

Show More
Back to top button
Close