ब्रेकिंग न्यूज़

आजम खान ने दी धमकी, कहा-राम मंदिर भूमि पूजन का आमंत्रण ना मिला, तो ले लूंगा जल समाधि

5 अगस्त को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम की नगरी यानी अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे और इस दौरान कई सारे नेता भी मौजूद होंगे। अयोध्या में आधारशिला कार्यक्रम के लिए भव्य तैयारी की जा रही है और 1 अगस्त से यहां पर पूजा शुरू हो जाएगी। जिसके बाद पीएम मोदी 5 अगस्त को यहां आकर मंदिर की नींव रखेंगे। इस कार्यक्रम के लिए उन तमाम नेताओं को बुलाया गया है। जिन्होंने राम मंदिर को लेकर कभी भी कोई गलत बयान बाजी नहीं की है।

आजम खान ने दी समाधि लेने की धमकी

Azam Khan

इस कार्यक्रम को लेकर मुस्लिम कारसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आजम खान (Azam Khan) की और से एक बयान आया है और इन्होंने अयोध्या पहुंचकर एक प्रतिज्ञा ली है। इनका कहना है कि अगर 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम में उनको नहीं बुलाया गया तो वो उसी दिन सरयू में जल समाधि ले लेंगे। आजम खान का कहना है कि वो भगवान राम में आस्था रखते हैं और उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन किया है। वे भी भगवान राम के भक्त हैं। इसलिए उन्हें इस भव्य कार्यक्रम में बुलाया जाए। इन्होंने कहा कि  भगवान राम को किसी धर्म या जाति में नहीं बांधा जा सकता। इसलिए इस पुण्य काम में वो भी शामिल होना चाहता हैं और राम मंदिर भूमि पूजन का साक्षी बनना चाहते हैं।

आजम खान के अनुसार वो भगवान राम को अपना आराध्य मानते हैं और उन्हें इस कार्यक्रम में ना बुलाए जाने पर वो उसी तरह से समाधि ले लेंगे। जैसे भगवान राम व लक्ष्मण ने सरयू में जल समाधि ली थी। आज अयोध्या पहुंचे आजम खान ने राम लला के दर्शन भी किए और राम मंदिर आंदोलन के पुरोधा रहे स्वर्गीय महंत रामचंद्र दास परमहंस की समाधि पर श्रद्धांजलि भी दी।

योगी ने किया दौरा


5 अगस्त को होने वाले इस कार्यक्रम से पहले यूपी के सीएम योगी ने आज अयोध्या का दौरा भी किया और कार्यक्रम को लेकर किए जा रहे इंतजामों का जायजा लिया। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने राम जन्म भूमि स्थल पर भगवान राम की पूजा की और भरत, शत्रुघ्न और लक्ष्मण जी को नए आसन पर विराजमान किया।

गौरतलब है कि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंचकर राम मंदिर की आधारशिला रखने वाले हैं और इस कार्यक्रम के लिए खूब सारी तैयारियां की जा रही है। कोरोना काल को देखते हुए इस कार्यक्रम में अधिक लोगों को नहीं बुलाया जा रहा है और इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 200 अतिथियों को ही निमंत्रण भेजा गया है। बताया जा रहा है कि इस कार्यक्रम में सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को भी बुलाया जा रहा है। साथ में ही जिन लोगों ने राम मंदिर बनाने को लेकर आंदलोन किया है, उन्हें भी निमंत्रण भेजा गया है।

2 साल में बनेंगा मंदिर

वहीं आधारशिला रखने के बाद इस मंदिर का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा और इस मंदिर को बनाने का काम 2 साल में पूरा किया जाएगा। राम मंदिर बनाने के लिए सरकार 100 करोड़ का खर्च कर रही है और इस मंदिर का काम साल 2020 तक पूरा हो जाएगा।

Show More
Back to top button