बॉलीवुड

हीरोइन नहीं जर्नलिस्ट बनना चाहती थीं अनुष्का शर्मा, लेकिन एक वाक्ये ने बदल दी सोच

अनुष्का शर्मा का नाम आज इंडस्ट्री की बेस्ट एक्ट्रेसेस में शुमार है. 11 दिसंबर, 2017 को अनुष्का ने क्रिकेट स्टार विराट कोहली से शादी की थी. अनुष्का एक नॉन फिल्मी बैकग्राउंड से हैं, जिन्होंने अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर इंडस्ट्री में एक बड़ा मुकाम हासिल किया है. भले ही अनुष्का काफी समय से फिल्मों से दूर हों, लेकिन उनकी गिनती आज भी फिल्म इंडस्ट्री की टॉप अभिनेत्रियों में की जाती है.

अनुष्का अब केवल बॉलीवुड एक्ट्रेस नहीं रहीं, बल्कि प्रोड्यूसर भी बन गई हैं. हाल ही में ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज़ अनुष्का की फिल्म ‘बुलबुल’ ने खूब चर्चा बटोरी थी. यह फिल्म दर्शकों को काफी पसंद आई थी. इससे पहले अनुष्का के प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले ‘पाताल लोक’ बनी थी, जिसे लोगों ने खूब सराहा था.

आज के टाइम में अनुष्का बतौर अभिनेत्री काफी लोकप्रिय हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि वह एक्ट्रेस न बनकर पत्रकारिता की फील्ड में जाना चाहती थीं? जी हां, एक दौर ऐसा था जब अभिनेत्री एक्ट्रेस नहीं जर्नलिस्ट बनना चाहती थीं. दरअसल, अनुष्का बचपन से ही पढ़ने-लिखने में आगे थीं. स्कूल की हर एक्टिविटी में वह हिस्सा लिया करती थीं. बड़ी होकर वह जर्नलिस्ट बनना चाहती थीं. लेकिन अच्छी कद-काठी होने की वजह से दोस्त उन्हें मॉडलिंग करने की सलाह देते.

दोस्तों की बात मानते हुए उन्होंने छोटे-मोटे मॉडलिंग असाइनमेंट्स भी किये. पर उस समय अनुष्का मॉडलिंग केवल फन के लिए करती थीं. उनका सपना तो कुछ और ही था. बता दें, अनुष्का आर्मी बैकग्राउंड से आती हैं. दसवीं कक्षा में उन्हें एक टेलकम पाउडर के एड फिल्म में काम करने का मौका मिला. एड में उन्हें पीछे बाकी लड़कियों के साथ खड़ा होना था.

इस एड फिल्म की हीरोइन अंजना सुखीजा थी, जो फिल्म ‘सलाम-ए-इश्क’ के बाद चर्चा में आई थीं. एड के रिहर्सल के समय किसी ने अंजना की तरफ पॉइंट करते हुए कहा कि, “ये है एड की हीरोइन”. उस समय अनुष्का को काफी अजीब लगा. यहां तक कि एड की हीरोइन अंजना भी साथ में काम कर रही लड़कियों को भाव नहीं दे रही थीं.

अनुष्का ने देखा कि मेन हीरोइन और टॉप मॉडल को स्पेशल ट्रीटमेंट मिलता है. लोगों का ध्यान केवल उनकी तरफ ही होता है. यही वह समय था जब अनुष्का ने निर्णय लिया कि वह एक दिन टॉप मॉडल बनकर रहेंगी. उस दिन के बाद से अनुष्का ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने मॉडलिंग के करियर को गंभीरता से लेना शुरू कर दिया. मॉडल मेकर प्रकाश बिडप्पा की ट्रेनिंग में वह बहुत जल्द ही टॉप मॉडल बन गईं.

अनुष्का मॉडलिंग के लिए बैंगलोर से मुंबई तो गईं, पर वह यह नहीं जानती थीं कि कामयाबी पलकें बिछाए उनका इंतजार कर रही है. यशराज प्रोडक्शन में उन्हें अपनी पहली फिल्म मिली और वह भी शाहरुख़ खान के अपोजिट. हालांकि, अनुष्का ने सोचा था किन दो-तीन फिल्में करने के बाद वे वापस मॉडलिंग की दुनिया में आ जाएंगी. लेकिन लगातार एक के बाद एक हिट फिल्में देने के बाद उनका मन बदला और कुछ ही दिनों में वह इंडस्ट्री की नंबर वन एक्ट्रेस बन गईं.

बात करें वर्क फ्रंट की तो आखिरी बार एक्ट्रेस शाहरुख़ खान के साथ फिल्म ‘जीरो’ में दिखाई दी थीं. इसके बाद अनुष्का किसी फिल्म में नजर नहीं आईं. लेकिन आने वाले समय में अनुष्का क्रिकेटर झूलन देवी की बायोपिक फिल्म में नजर आएंगी. इसके अलावा वह अर्जुन कपूर के साथ फिल्म ‘कनेडा’ में भी दिखाई दे सकती हैं.

पढ़ें सुशांत के निधन के बाद करण जौहर और आलिया भट्ट पर फूटा फैंस का गुस्सा, यह है बॉलीवुड का असली चेहरा

Back to top button
?>