बॉलीवुड

सुशांत सिंह सुसाइड केस में हुआ अब तक का बड़ा खुलासा, शेखर कपूर ने खोले कई गहरे राज

बॉलीवुड के युवा अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड का मामला अब तक सुलझ नहीं सका है, बल्कि नए नए खुलासों से मामला लगातार उलझता ही जा रहा है। इस मामले में पुलिस अब तक 30 से अधिक लोगों से पूछताछ कर चुकी है। इसी कड़ी में मुंबई पुलिस ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली से पूछताछ की है, इसके बाद शेखर कपूर ने भी ईमेल के जरिए मुंबई पुलिस के सवालों का जवाब दिया है। ईमेल में शेखर कपूर ने इस बात का खुलासा किया है कि आखिर क्यों फिल्म पानी को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था और फिर इसके बाद अचानक से ही सुशांत को अच्छी फिल्मों में काम मिलना बंद हो गया।

सुशांत सिंह राजपूत

शेखर कपूर ने बताया कि फिल्म पानी को बड़े पर्दे पर लाना उनका सपना था, इसे वो ड्रीम प्रोजेक्ट मानकर चल रहे थे। शेखर कहते हैं कि इस फिल्म में उन्होंने 10 साल तक काम किया था, मगर कुछ कारणों से वे इस फिल्म में आगे काम नहीं कर सके।

2014 में शुरू होने वाली थी फिल्म पानी की शूटिंग….

फिल्म निर्देशक शेखर कपूर ने मुंबई पुलिस को दिए जवाब में बताया कि फिल्म पानी 150 करोड़ रूपए के बजट से बनने वाली थी और इस सिलसिले में उन्होंने आदित्य चोपड़ा से साल 2012-13 में मुलाकात भी की थी। उन्होंने कहा कि मुलाकात के बाद हम दोनों ने ये फैसला लिया था कि 2014 में इस प्रोजेक्ट को शुरू किया जाएगा। हम लोगों ने प्री-प्रोडक्शन में 7 करोड़ रूपए खर्च भी कर दिए थे और फिल्म के लिए सुशांत सिंह राजपूत को कास्ट कर लिया गया था।

शेखर का कहना है कि सुशांत इस फिल्म में गोरा नाम के एक शख्स का रोल प्ले करने वाले थे। सुशांत ने इस फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ी थी और उन्होंने इस फिल्म के लिए हां भी कर दिया  था।  शेखर ने बताया कि सुशांत इस फिल्म में अपने किरदार के लिए काफी मेहनत कर रहे थे और लगातार वर्कशॉप भी ज्वाइन करते थे। सुशांत इस फिल्म की तैयारी में जोरों शोरों से लगे हुए थे और उन्हें इस फिल्म में इतनी दिलचस्पी थी कि वे यशराज फिल्म्स की हर एक प्रोडक्शन मीटिंग में शामिल होते थे। वे एक्टिंग से संबंधित हर छोटी से छोटी बात को बारीकी से समझना चाहते थे।

सुशांत-शेखऱ

आदित्य चोपड़ा ने क्यों शुरू नहीं होने दी फिल्म पानी की शूटिंग?

शेखर कपूर से मिली जानकारी के अनुसार कुछ कारणवश आदित्य चोपड़ा ने अचानक इस फिल्म से अपने हाथ पीछे खींच लिए। दरअसल आदित्य चोपड़ा फिल्म के पटकथा में कुछ बदलाव चाहते थे, जबकि शेखर कपूर इस बात के लिए बिल्कुल भी राजी नहीं थे। यही वजह रही कि फिल्म की शूटिंग शुरू ही न हो सकी।

शेखर बताते हैं कि फिल्म के बंद हो जाने की सूचना मिलते ही, सुशांत अपनी जिंदगी में काफी परेशान रहने लगे थे और कई बार तो वे फोन में ही घंटो-घंटो रोया करते थे। शेखर ने यहां तक कहा कि एक बार सुशांत मुझसे मिलने के बाद मेरे कंधे पर अपना सिर रखकर घंटों रोए थे।

शेखर-सुशांत

सुशांत ने कहा था, इंडस्ट्री में हो रहा है सौतेला व्यवहार – शेखर कपूर

बता दें कि शेखर कपूर ने फिल्म पानी के लिए कई दूसरे प्रोड्यूसर्स से भी संपर्क किया था, मगर कोई भी फिल्म प्रोड्यूस करने को राजी नहीं हुआ और फिर शेखर लंदन चले गए थे। लंदन से लौटने के बाद शेखर कपूर ने जब सुशांत से मुलाकात की, तो सुशांत ने कहा कि वो यशराज फिल्म्स के साथ सारे कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर चुके हैं। शेखर बताते हैं कि सुशांत ने उस वक्त मुझसे कहा था कि उनके साथ इंडस्ट्री में सौतेला व्यवहार हो रहा है और जानबूझकर उन्हें अच्छी फिल्मों से अलग रखा जा रहा है। शेखर ने कहा, सुशांत के मुंह से ऐसी बातें सुनकर मैंने उससे कहा था कि वो काम करता रहे और अच्छी स्क्रिप्ट पर ध्यान दे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शेखर कपूर की ड्रीम फिल्म पानी के लिए सुशांत ने बाजीराव मस्तानी, गोलियों की रासलीला : रामलीला और पद्मावत समेत कुल 10 फिल्मों को रिजेक्ट कर दिया था। ऐसे में लोगों के मन में आज भी एक सवाल है कि आखिर फिल्म पानी क्यों नहीं बनी?

Show More

Related Articles

Back to top button
Close