विशेष

पटना में सुशांत को अनूठी श्रद्धांजलि, चौराहे का नाम रखा सुशांत सिंह राजपूत चौक

जबसे बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या करने के बाद इस दुनिया को अलविदा कह कर गए हैं, तब से उनके प्रशंसकों के बीच मायूसी की लहर दौड़ गई है। सोशल मीडिया में अब तक सुशांत सिंह राजपूत को श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है। लोग अलग-अलग तरीके से सुशांत को याद कर रहे हैं। इसी क्रम में पटना में एक चौक का नाम सुशांत के नाम पर सुशांत सिंह राजपूत चौक रख दिया गया है।

सुशांत सिंह राजपूत

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत का बचपन पटना के ही राजीव नगर इलाके में बीता है। यहां सुशांत सिंह राजपूत का घर है, जिसमें उनके पिता के साथ परिवार के बाकी लोग रहते हैं। राजीव नगर में एक चौक पर सुशांत सिंह राजपूत चौक का बोर्ड लगा दिया गया है।

इन्होंने किया नामकरण

वैसे आपको यह भी बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत चौक का यह बोर्ड आधिकारिक तौर पर यहां नहीं लगाया गया है। कहने का मतलब है कि नगर निगम ने इस चौक का नामकरण नहीं किया है। यह बोर्ड यहां राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की ओर से लगाया गया है। राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष भी इस चौक के नामकरण के मौके पर मौजूद थे।

बेटे की मौत के बाद सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह बेहद मायूस हैं। उन्हें अब तक यकीन नहीं हो रहा है कि हमेशा हंसता-खिलखिलाने वाला उनका बेटा अब इस दुनिया में नहीं रह गया है। सुशांत की मौत के बाद पहली बार मीडिया से उनके पिता ने बात भी की है। इस दौरान उन्होंने बेटे सुशांत की व्यक्तिगत जिंदगी से लेकर उनकी प्रोफेशनल जिंदगी से जुड़ी कई बातें बताई हैं।

चांद पर प्लॉट खरीदने की पुष्टि

सुशांत के पिता ने अपने बेटे की शादी से लेकर उनके चांद पर प्लॉट खरीदने तक के बारे में बात की है। पिता केके सिंह ने यह भी कहा कि मेरा बेटा सुशांत बहुत बड़े-बड़े सपने देखा करता था। आत्मविश्वास तो सुशांत में कूट-कूट कर भरा हुआ था। सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने सुशांत द्वारा चांद पर प्लॉट खरीदे जाने की भी पुष्टि कर दी। उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने चांद पर प्लाट खरीदा भी था और 55 लाख की दूरबीन से वह अपने प्लॉट को घर से निहारता भी था।

लगा है लोगों का आना-जाना

पटना में सुशांत सिंह राजपूत के घर अब भी लोगों का आना-जाना लगा हुआ है। उनके पिता केके सिंह से मिलकर लोग उन्हें सांत्वना दे रहे हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गई लोगों ने सीबीआई से जांच कराने की मांग की है, तो वहीं कई की यह मांग है कि उनकी आखिरी फिल्म दिल बेचारा को बड़े पर्दे पर रिलीज किया जाए।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की खबर सुनने के बाद उनके पिता केके सिंह को गहरा सदमा लगा था और वे बेहोश होकर गिर भी गए थे। परिवार वालों ने उन्हें संभाला था। उसके बाद वे मुंबई पहुंचे थे और बीते 15 जून को मुंबई में ही सुशांत सिंह राजपूत का अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

पढ़ें सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद GF रिया चक्रवर्ती हुईं परेशान, एक्ट्रेस को उठाना पड़ा ये कदम

Back to top button
?>