ब्रेकिंग न्यूज़

अम्फान और निसर्ग के बाद अब एक और तूफान दे रहा है भारत में दस्तक, जारी किया गया अलर्ट

अम्फान और निसर्ग जैसे खतरनाक तूफान के बाद अब भारत में एक और चक्रवाती तूफान (Cyclone) दस्तक देना जा रहा है। बताया जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) के ऊपर कम दबाव का एक क्षेत्र बन गया है जिससे की तूफान जैसे हालात पैदा हो रहे हैं। बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहे इस तूफान पर भारतीय मौसम विभाग ने नजर रखी हुई है और मौसम विभाग के मुताबिक 4-5 दिनों तक इस पर नजर रखी जाएगी।

ले सकता है चक्रवाती तूफान का रूप

किसी भी तूफान बनने से पहले समंदर में कम दबाव का क्षेत्र बनता है और आमतौर पर तूफान बनने की ये पहली स्टेज होती है। अगर ये चक्रवाती तूफान में तब्दील नहीं होता है तो इसके कारण तटीय इलाकों में तेज बारिश और तेज हवा की आशंका बन जाती है। मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र के अनुसार कम दबाव एक प्रकार का चक्रवाती प्रवाह होता है और किसी चक्रवात का ये पहला चरण होता है। ये जरूरी नहीं होता है कि ये तूफान का रुप ले। लेकिन हमने इसपर नजर बनाकर रखी हुई है और कुछ दिनों में पता चल जाएगा की ये तूफान बनता है कि नहीं।

ओडिशा में हो सकती है बारी बारिश

समंदर में कम दबाव का क्षेत्र बनने से बारिश की संभावना बन जाती है। बंगाल की खाड़ी में बन रहे इस कम दबाव का असर अगले सप्ताह ओडिशा पर पड़ सकता है और 10 जून के आसपास ओडिशा में भारी बारिश हो सकती है।

अम्फान तूफान ने मचाई थी तबाही

एक महीने के अंदर ही भारत में 2 चक्रवाती तूफान आ चुके हैं। जिनसे काफी तबाही मच चुकी है। अम्फान तूफान पिछले महीने बंगाल और ओडिशा में आया था और इस तूफान से इन दोनों राज्यों में काफी तबाही मची थी। अम्फान तूफान को इस सदी का पहला सुपर साइक्लोन कहा गया था। इस तूफान के कारण तेज बारिश होने के साथ तेज हवाए भी चली थी और इसकी चपेट में कई सारे पेड़ आकर गिर गए थे। अम्फान तूफान के कारण बंगाल में 80 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी।

निसर्ग तूफान

इसी हफ्ते भारत में जो दूसरा तूफान आया था वो निसर्ग था। निसर्ग तूफान के कारण महाराष्ट्र और गुजरात में तबाही मची थी। ये तूफान अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने से पैदा हुआ था और इस तूफान के समय हवा की रफ्तार 120-130 किलोमीटर प्रति घंटा चली थी। निसर्ग तूफान महाराष्ट्र और गुजरात राज्य से होकर गुजरा था। इस तूफान के कारण इन राज्यों में तेज बारिश भी हुई थी।

मॉनसून भी देना जा रहा है दस्तक

इन तूफान के अलावा भारत में मॉनसून भी आने वाला है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती प्रवाह बनने के चलते मॉनसून को आगे बढ़ने में मदद मिलेगी और जल्द ही मॉनसून आ जाएगा। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती प्रवाह बनने के कारण मॉनसून की रफ्तार में तेजी देखी जा सकती है और इस महीने मॉनसून भारत में आ जाएगा। मॉनसून आते ही उत्तर भारत के लोगों को गर्मी से राहत मिल जाएगी।

Show More
Back to top button