अध्यात्म

सबसे शक्तिशाली होती है ये 3 राशियां, चाहकर भी नहीं कर सकते इनका बुरा, भाग्य भी देता है साथ

ज्योतिष शास्त्र में कुल 12 राशियों का वर्णन देखने को मिलेगा. इनमें से 3 राशियां ऐसी होती है जो सबसे अधिक ताकतवर और शक्तिशाली मानी जाती है. इन राशियों का भाग्य हमेशा प्रबल रहता है. इनकी मन की मुराद आज नहीं तो कल पूरी हो ही जाती है. इन राशि के लोगो को जीवन में ज्यादा संघर्ष भी नहीं करना पड़ता है. इनके जीवन में सुख अधिक होता है. तो चलिए जानते हैं कि वे तीन ताकतवर राशियां कौन सी है.

पहली राशि – मेष

मंगल इस राशि का स्वामी होता है. इसलिए यह सबसे अधिक ताकतवर होती है. इनके जातकों में लीडरशिप क्वालिटी होती है. ये जिस भी क्षेत्र में हाथ डालते हैं वहां सफलता ही इनके हाथ लगती है. इनका भाग्य हमेशा इनका साथ देता है. इनके कार्य आसानी से संपन्न होते हैं. इसके अलावा ये लोग मेहनती भी होता हैं जिसके चलते सफलता इनके कदम चूमती है.

दूसरी राशि – वृश्चिक

इसका स्वामी भी मंगल होता है. इस राशि के जातक बहादुर होते हैं. इन्हें लाइफ में रिस्क लेने से डर नहीं लगता है. मंगल गृह का साया ऊपर होने के कारण इनके सभी कार्य जल्दी पूर्ण हो जाते हैं. ये बहुत मेहनती भी होते हैं. हर काम लगन के साथ करते हैं. इनके अंदर जीवन में कुछ कर दिखाने का जज्बा होता है. ये काम के लिए दूसरों पर कम निर्भर रहते हैं. इनका भाग्य भी बाकी राशियों की तुलना में अधिक होता है.

तीसरी राशि – मकर

इसका स्वामी शनि गृह होता है. इस वजह से इनके ऊपर शनिदेव कि विशेष कृपा रहती है. इस राशि के लोग आत्मनिर्भर होते हैं. इनके अंदर आत्मविश्वास कूट कूट के भरा होता है. ये अपनी मेहनत के दम पर हर कार्य में सफलता प्राप्त करते हैं. शनिदेव का आशीर्वाद इनका भाग्य प्रबल रखता है. शनिदेव की कृपा के चलते कोई इनका बाल भी बाका नहीं कर पाता है. बल्कि जो इनका बुरा चाहता है खुद उसके साथ ही बुरा हो जाता है.

ये राशि भी किसी से कम नहीं

इन तीन राशियों के अलावा एक और राशि है जिसकी ताकत बेमिसाल होती है. हालाँकि इस राशि की गिनती ऊपर की तीन राशियों में नहीं होती है. इसकी वजह ये हैं कि यह बाकी राशियों की तुलना में बहुत ताकतवर मानी जाती है. दरअसल हम यहाँ जिस राशि की बात कर रहे हैं वो कुंभ है. इसका स्वामी गृह शनि होता है. शनिदेव को हम कर्मफल दाता भी कहते हैं. मतलब ये काम के अनुसार फल प्रदान करते हैं. इस राशि के जातक बड़े मेहनती होते हैं. ये अपने कार्य को समाप्त करने तक कोशिश करते रहते हैं. इन्हें हार से डर नहीं लगता है. ये अपनी सभी योजनाएं पहले से बना लेते हैं ताकि वे जल्द और बिना किसी रुकावट के पूर्ण हो जाए.

तो जैसा कि आप ने देखा ज्योतिष शास्त्र की कुल 12 राशियों में से तीन राशियां मेष, मकर और वृश्चिक सबसे ज्यादा ताकतवर होती है. वहीं कुंभ राशि का अपना अलग दबदबा होता है. ये बाकी सभी राशियों की छुट्टी कर देती है. आशा है कि आपको ये जानकारी पसंद आई होगी. इसे दूसरों के साथ साझा करना ना भूले.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close