ब्रेकिंग न्यूज़

कोरोना काल में बाज नहीं आ रहा है चीन, लद्दाख में रच डाली कारगिल जैसी साजिश

भारत के केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में पिछले दिनों चीन ने अपने खास दोस्त पाकिस्तान की तरह नापाक साजिश रची है। दरअसल, कुछ दिनों पहले भारतीय सेना के कुछ जवान कोरोना पॉजिटीव पाए गए थे, जिसके चलते सेना ने एहतियातन भारत के वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर अपने सैन्य अभ्यास को स्थगित कर दिया था। इसी का फायदा उठाते हुए, चीन ने अपनी सेना को आगे बढ़ा दिया। बता दें कि रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण भारतीय सेना के पेट्रोलिंग वाले इलाके में चीनी सेना ने अपने कदम बढ़ाते हुए, वहां अपनी स्थिति को मजबूत कर लिया है। LAC पर चीनी सेना के इस हरकत के बाद से चीन और भारत में तनातनी जारी है।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए भारतीय जवानों ने सैन्य अभ्यास रोका था…

बता दें कि मार्च के दूसरे सप्ताह में ही सेना का एक जवान कोरोना पॉजिटीव पाया गया था। इसके बाद सेना के अंदर एहतियात और परहेज बढ़ गए थे। एहतियातन सेना के जवानों के जमावड़े पर भी रोक लग गई थी। सेना के अधिकारियों ने जानकारी दी कि कोरोना के खतरे को देखते हुए लद्दाख में सैन्य अभ्यास को रोका गया था

चीन की कायरना हरकत 

वहीं दूसरी तरफ कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए चीनी सेना ने भी अपने सैन्य अभ्यास पर रोक लगा दी थी, लेकिन बाद में चीन ने साजिश के तहत गलवान घाटी और पैंगोंग शो झील के नजदीक फिंगर एरिया में अचानक अपने सैनिकों को ड्यूटी पर लगा दिया। प्रतिष्ठित अखबार इकनॉमिक्स टाइम ने सबसे पहले गलवान तनाव की जानकारी दी थी। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो चीनी सैनिकों के इस इलाके में पहुँचने से दौलद बेग ओलिड और काराकोरम पास से लेह तक जाने के लिए 2019 में जो सड़क बनाई गई थी, अब उस सड़क मार्ग से इन इलाकों में संपर्क टूट सकता है।

चीन की नापाक साजिश

चीन ने भी अपने सदाबहार दोस्त पाकिस्तान वाली चाल चली है। चीन के इस कायराना हरकत को देखते हुए भारत ने भी जवाबी कार्रवाई की है। बता दें कि कोविड19 के सभी प्रोटोकॉल को तोड़कर भारतीय सेना ने अपने जवानों को फौरन उस इलाके में अपनी उपस्थिति देने को कहा है। हालांकि चीन ने भारतीय इलाके गलवान और फिंगर में अपने सैनिकों को तैनात कर रणनीतिक बढ़त हासिल कर ली है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो इस समय गलवान में तकरीबन 3400 चीनी सैनिक मौजूद हैं तो वहीं पैंगोंग लेक में करीब 3600 चीनी सैनिक तैनात हैं।

चीनी सेना के इस हरकत पर गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि रक्षा मंत्रालय और भारत सरकार भारत-चीन सीमा पर चल रहे तनातनी की पूरी जानकारी देगी। वहीं सेना ने बताया कि अभी तक सीमा पर किसी प्रकार की हिंसा नहीं हुई है।

सूत्रों के अनुसार, लॉकडाउन के दूसरे चरण में ही भारत ने सीमा पर चीनी सैनिकों के मूवमेंट को नोटिस किया था। इस बीच 5-6 मई को दोनों सेना के बीच लद्दाख में कुछ झड़प भी हुई थी। इतना ही नहीं, इस झड़प में कई भारतीय सेना के जवान घायल हो गए थे।  सरकारी सूत्रों ने सैटेलाइट फोटोज के जरिए बताया है कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना के पेट्रोलिंग वाले इलाके में अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। वहीं भारत सरकार के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत-चीन के साथ इस मामले को सुलझाने का प्रयास कर रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close