विशेष

जब गांगुली के घर खाना खाने पहुंचे थे सचिन तेंदुलकर, तस्वीर शेयर कर याद किया वो खास पल

पिच पर इनकी जोड़ी ने भारत को जीत दिलाई तो पिच के बाहर इनकी दोस्ती दूसरों के लिए मिसाल बन गई

क्रिकेट के मैदान पर जिन दो क्रिकेटरों की जोड़ी कमाल दिखाती  हो वो असल जिंदगी में भी उतने अच्छे दोस्त हों जरुरी नहीं है। हां, अगर वो जोड़ी सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की हो तो ये जरुर हो सकता है। जिस पिच पर ये दोनों महान बल्लेबाज जमकर चौके-छक्के लगाते थे मैदान के बाहर भी इनकी दोस्ती बहुत गहरी थी। सचिन और सौरव ने एक साथ 15 सालों तक मैच खेला, लेकिन इनमें से किसी को भी एक दूसरे से कभी जलन नहीं हुई। इसके उलट दोनों इतने गहरे दोस्त थे कि एक दूसरे के घर खाने पर चले जाया करते थे। आज भी ये दोस्ती बिल्कुल वैसी ही बरकरार है। ऐसे ही एक खूबसूरत पल को याद करते हुए सचिन ने एक पुरानी तस्वीर शेयर की है।

सचिन ने शेयर की यादगार तस्वीर

मास्टर-ब्लास्टर सचिन ने थर्सडे थ्रोबैक में अपने और सौरव की एक तस्वीर शेयर की है जिसमें दोनों घर में बैठकर खाना खा रहे हैं। सचिन ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा- दादी के घर पर बिताई गई एक शानदार शाम। खाने का बहुत लुत्फ उठाया। उम्मीद करता हूं मां अच्छी होंगी और उन्हें मेरी शुभकामनाएं देना। बता दें कि सौरभ गांगुली दादा के नाम से भी जाने जाते हैं, लेकिन सचिन उन्हें दादी बुलाते हैं।


सचिन और सौरव गांगुली की पार्टनरशिप की तो पुरी दुनिया मुरीद है। हाल ही में आईसीसी ने भी याद किया था। बता दें कि इन दोनों खिलाड़ियों के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है। पार्टनर के तौर पर सचिन और सौरव ने 176 पारियों में 47.55 के औसत से 8227 रन बनाएं हैं। गौरतलब है कि भारत की सीनियर टीम में खेलने से पहले सचिन तेंदुलकर और बीसीसीआई के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक साथ अंडर-15 क्रिकेट भी खेला था।

कुछ समय पहले सौरव गांगुली ने दावा किया था कि अगर वनडे के मौजुदा नियम पहले भी लागू होते तो सचिन और उनकी जोड़ी कम से कम 4 हजार से ज्यादा रन बनाती। सचिन तेंदुलकर ने भी सौरन की इस बात पर हामी भरी थी। साथ ही सचिन ने वनडे के मौजूदा नियमों को बदलने की भी मांग की थी। बता दें कि सचिन और सौरभ की दोस्ती की मिसाल मौजूदा क्रिकेटर्स भी देते हैं। आज के समय में बहुत कम ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिनकी पीच के साथ साथ मैदान के बाहर भी जोड़ी सलामत हो।

सचिन के नाम दर्ज हैं ये रिकॉर्ड

आज ये दोनों दिग्गज क्रिकेट इंडस्ट्री को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन आज सभी क्रिकेटर इन्हें के रास्तों पर चलने की कोशिश करते हैं। सचिन तेंदुलकर का नाम टेस्ट में 51 और वनडे मैचों में 49 शतक के साथ 100 अंतरराष्ट्रीय शतक बनाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। उन्होंने 16 मार्च 2012 को एशिया कप के चौथे वनडे के दौरान बांग्लादेश के खिलाफ अपना 100वां शतक लगाया था।

वनडे क्रिकेट में पहला दोहरा शतक भी सचिन ने ही लगाया था। इन तमाम रिकॉर्ड्स के अलावा सचिन को भारत रत्न, पद्मश्री, पद्म विभुषण, राजीव गांधी खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड जैसे कई सम्मान दिए गए हैं।

सौरव गांगुली कहलाए बंगाल टाइगर

वहीं सौरव गांगुली एक शानदार बल्लेबाज और बेहतरीन कप्तान के रुप में जाने जाते हैं। सौरव ने टेस्ट क्रिकेट से अपने भारतीय क्रिकेट में शुरुआत की थी। उन्होंने अपने पहले और दूसरे दोनों मैचों में शतक जड़ा था। दादा ने अपने इंटरनेशनल करियर में 18 हजार से ज्यादा रन बनाए थे। साल 2002 में गांगुली की कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड को उनके ही देश में नेटवेस्ट ट्रॉफी के रुप में बड़ी जीत हासिल की थी। अपने करियर में सौरव  कई बार विवाद से जुड़े, लेकिन अपने मैच पर इसका असर नहीं पड़ने दिया। आज वो बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं और उन्हें पद्मश्री और अर्जुना अवॉर्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close