बॉलीवुड

श्वेता बच्चन की शादी करने से पहले अमिताभ ने इस तरह की थी लड़के की जांच, फैमिली को भी नही छोड़ा था

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) अपनी बेटी श्वेता बच्चन नंदा (Shweta Bachchan Nanda) के बेहद करीब हैं. अमिताभजी सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहते हैं और आए दिन यहाँ भी अपनी बेटी से जुड़ी तस्वीरें साझा करते रहते हैं. बिग बी ने अपनी बेटी का ब्याह निखिल नंदा (Nikhil Nanda) से 1997 में किया था. अमिताभजी ने ये शादी यूं ही नहीं कर दी थी, बल्कि अपनी बेटी ब्याहने से पहले लड़के और उसकी फैमिली की कई बातों का जांच पड़ताल भी की थी. यदि आप भी अपनी बेटी का रिश्ता तय करना चाहते हैं तो अमितजी से ये पांच बातें सिख सकते हैं.

बायोडाटा टटोलें

अपनी लड़की किसी भी लड़के को देने से पूर्व उसका बायोडाटा अच्छे से पढ़ लेना चाहिए. लड़का कहाँ जॉब करता हैं, किस कंपनी में उसकी नौकरी हैं, उसकी किस टाइप की जॉब हैं, करियर में फ्यूचर कैसा हैं इत्यादि चीजें अच्छे से चेक कर ले. इसके अलावा लड़के का एजुकेशन क्या हैं और वो आपकी बेटी की क्वालिफिकेशन से मैच खाता हैं या नहीं ये भी चेक जरूर करना चाहिए.

बॉडी लैंग्वेज कैसी हैं

लड़के के बोल चाल का तरीका कैसा हैं, उसका रहन सहन, बातचीत करने का अंदाज़ ये सभी चीजें अच्छे से जांच ले. कई बार लड़के आपके सामने अच्छे से पेश आते हैं लेकिन रियल लाइफ में कुछ और ही होते हैं. लड़के के अलावा उसके परिवार वालो का नेचर कैसा हैं ये जानना भी जरूरी हैं. आखिर आपकी बेटी लड़के के साथ उसकी फैमिली संग भी रहने वाली हैं. लड़के की पर्सनालिटी आपकी बेटी से मैच करती हैं या नहीं ये भी देख लेना चाहिए.

महिलाओं की इज्जत करता हैं या नहीं

लड़का दिखता अच्छा हैं, कमाता बढ़िया हैं और घर भी बहुत बड़ा हैं, लेकिन भैया यदि उसे बातचीत करने का ढंग ही नहीं हैं तो ये चीजें चूल्हें में चली जाती हैं. आपको ये देखना हैं कि वो आपकी बेटी, अन्य महिलाओं और बड़े बुजुर्गों से किस लहजे में और कैसा व्यवहार करता हैं. कहीं ऐसा ना हो कि शादी के बाद वो आपकी बेटी की इज्जत ही नहीं कर रहा और उसे अपने पैरों की जूती समझ रहा हैं.

फैमिली बैकग्राउंड

आपकी बेटी को ससुराल में पुरे परिवार के साथ रहना हैं. ऐसे में उस फैमिली का बैकग्राउंड चेक जरूर करे. उनके परिवार के लोग किस तरह के हैं, सभी क्या करते हैं, उनका व्यवहार कैसा हैं, समाज में क्या इज्जत हैं, वे लोग किसी चीज के लिए बदनाम तो नहीं हैं, किसी का कोई अपराधिक बैकग्राउंड तो नही हैं. परिवार वाले आधुनिक सोच के हैं या नहीं, बेटी को जॉब करने देंगे या नहीं, उसकी आज़ादी पर कोई पाबंदी तो नहीं लगाएंगे, ये सभी बातें चेक कर ले.

दहेज़ लोभी तो नहीं

लड़का या उसकी फैमिली दहेज़ के लालची तो नहीं हैं. उनकी शादी में क्या क्या डिमांड हैं ये भी पहले ही क्लियर कर ले. यदि उनकी बातों से लगे कि इन्हें पैसो का लालच अधिक हैं तो आप वहां अपनी बेटी की शादी ना करे.

उम्मीद करते हैं कि आप अपनी बेटी की शादी तय करने से पहले इन बातों का ख्याल अवश्य रखेंगे.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close