रिलेशनशिप्स

महिलाओं को भूलकर भी पति से नहीं कहनी चाहिए ये 5 बातें, शादीशूदा जिंदगी हो सकती है बर्बाद

पति-पत्नी के बीच अक्सर तकरार होती रहती है, लेकिन पत्नियों को ये 5 बातें कभी पति से नहीं कहनी चाहिए

शादीशूदा जिंदगी की गाड़ी तभी सही चलती है जब दो लोगों के बीच में गलतफहमी ना हो और वो एक दूसरे को समझने की कोशिश करें। हर रिश्ते में थोड़ी बहुत नोंक-झोंक होती रहती है। वहीं पति-पत्नी के रिश्ते में ये प्यार और तकरार दोनों ही थोड़ा ज्यादा होता है। पति-पत्नी का रिश्ता बहुत मजबूत होता है, लेकिन उस रिश्ते की डोर बहुत नाजुक होती है। अगर उसमें खींच तान ज्यादा बढ़ जाए तो रिश्ते टूटने में देर नहीं लगती। वैसे तो ये रिश्ता दोनों के ही समर्पण और त्याग से चलता है, लेकिन अगर पत्नी की तरफ से रिश्ते में गड़बड़ी हो तो बात ज्यादा बिगड़ जाती है। ऐसे में आपको बताते हैं कि कौन सी वो बाते हैं तो पत्नियों को अपने पति को बिल्कुल नहीं बतानी चाहिए।

दूसरों के पति से तुलना

दुनिया का हर पति ये ही चाहता है कि उसकी पत्नी उसे ही सबसे योग्य मानें। ऐसे में कभी भी किसी और के पति की तारीफ अपने पति के सामने ना करें। सोशल मीडिया या दूसरों की बातों सुनकर बहुत सी महिलाओं को लगता है कि सामने वाला का पति अपनी पत्नी से ज्यादा प्यार करता है। ऐसे में बार बार अपने पति से इस बात की शिकायत ना करें। उन तस्वीरों और कहानियों में छिपी सच्चाई अक्सर कुछ और होती है। ऐसे में दूसरों की खुशी का अंदाजा लगाकर अपने रिश्ते ना खराब करें।

बच्चों को नहीं छोड़ूंगी

शादी के बाद पति-पत्नी के बीच अक्सर रोमांस धीमा हो जाता है। इसकी वजह ये है कि बच्चे होने के बाद पत्नी का ध्यान सिर्फ उनकी परवरिश पर लग जाता है। बच्चों का ख्याल रखना और हर वक्त उनके लिए मौजूद रहना अच्छी बात है, लेकिन इसके लिए अपने पति को नजरअंदाज ना करें। उन्हें कभी ये ना जताएं कि आप उनके साथ नहीं बैठ सकती क्योंकि आपको बच्चों को देखना है। कभी-कभार बच्चों को छोड़ थोड़ा वक्त सिर्फ अपने पति के लिए निकालें ताकी आपके बीच प्यार कभी कम ना हो।

तुम मां से चिपके रहते हो

हर रिश्ते में प्यार के साथ साथ इज्जत को होना भी बहुत जरुरी है। घर घर में अक्सर लड़ाई की वजह ये बनती है कि पत्नियों को लगता है कि उनका पति सिर्फ अपनी मां की बात मानता है। कभी भी अपने पति से ये मत कहिए कि तुम अपनी मां की बातें ही सुनते हो ममाज ब्वॉय हो। ये सोचिए की जो इंसान अपनी मां की इज्जत करता है उसके दिल में पत्नी के लिए भी प्यार होगा। वहीं जो अपनी मां की भी नहीं सुनता वो पत्नी की क्या सुनेगा। ऐसे में कभी भी अपने पति के माता पिता को लेकर उन्हें ताना ना मारें।

तुम माफी के लायक नहीं

पति-पत्नी अपने जीवन के कई साल बीताने के बाद एक दूसरे से मिलते हैं। ऐसे मे आपके और उनके जीने के ढंग में बहुत फर्क होता है। हो सकता है कि वो बहुत सी ऐसी हरकतें करते हों जिन्हें देखकर आपको बहुत गुस्सा आता हो। फिर भी कभी भी अपने पति से ये मत कहिएगा कि आप उन्हें किसी भी गलती के लिए कभी माफ नहीं करेंगी।

तलाक दे दूंगी

झगड़े हर घर में होते हैं और जब झगड़े बढ़ते हैं तो फिर बहुत सी ऐसी बातें भी मुंह से निकलने लगती है जिसे कह देने के बाद पछतावा होता है। आपका पति के साथ कितना भी झगड़ा हो, लेकिन कभी उनसे ये ना कहें कि मैं तलाक दे दूंगी। इससे ना बिगड़ने वाली बात भी काफी बिगड़ जाएगी।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close