राजनीति

कोरोना काल में दिल्लीवालों को दोनों हाथ से लूट रहे केजरीवाल, शराब के बाद पेट्रोल डीजल किया महंगा

जहां एक तरफ दिल्ली की जनता कोरोना के संकट से गुजर रही, वहीं दिल्ली वालों को लूटने में लगे केजरीवाल

कोरोना संकट से पूरी दुनिया पस्त है, ऐसी विकट परिस्थिति में दुनिया भर की सरकारें लोगों की मदद कर रहे हैं। भारत में भी केंद्र और राज्य सरकारें लगातार लोगों की मदद करने में व्यस्त हैं, तो वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी जेब भरने में व्यस्त हैं। गौरतलब हो कि दिल्ली सरकार ने पहले तो केंद्र सरकार के ऊपर दबाव बनाकर शराब की दुकानें खुलवाई और फिर जब लोग शराब की दुकान पर शराब लेने के लिए उमड़े, तो दिल्ली सरकार ने इसका फायदा उठा लिया। तभी तो शराब पर 70 फीसदी  ‘अतिरिक्त कोरोना चार्ज’ लगा दिया।

७० फीसदी रेट बढ़ाने के बाद भी दिल्ली की केजरीवाल सरकार, शराब दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन करवाने में असफल रही है। ऐसे में केजरीवाल सरकार के कोरोना से लड़ने के तमाम दावों की भी पोल खुल गई है।

खजाना भरना चाहती है केजरीवाल सरकार


लॉकडाउन के तीसरे चरण में देश भर में कुछ न कुछ रियायतें दी गई हैं। ये रियायतें ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन में ज्यादा हैं, जबकि रेड जोन में लॉकडाउन के नियमों को सख्ती से पालन करना होगा। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए नए एडवाइजरी में कहा गया है कि शराब की दुकानें सभी जोन में खुलेंगी। हालांकि दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार से मांग करते हुए शराब की दुकानों को खुलवा ही लिया, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करवाने में असमर्थ रही। ऐसे में ये बात स्पष्ट है कि केजरीवाल सरकार की शराब दुकाने खुलवाने की चाहत दिल्लवासियों पर कहर बनकर टूट सकती है। दरअसल, दिल्ली कोरोना से सबसे प्रभावित राज्यों में से एक है। वहां कोरोना का संकट काफी गहरा हो चुका है और दिनों ब दिन संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। इतना ही नहीं, अगर दिल्ली में कोरोना मरीजों की बात करें, तो मरीजों की संख्या 4500 तक पहुंचने वाली है।

दिल्ली सरकार ने महंगा किया पेट्रोल-डीजल


जहां एक तरफ दिल्ली की जनता कोरोना के संकट से गुजर रही है, तो वही दूसरी तरफ पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ा दिए गए हैं। दिल्ली में मंगलवार को पेट्रोल के दाम में 1.67 रूपए का इजाफा हुआ। इसी बढ़ोत्तरी के साथ अब दिल्ली में पेट्रोल 71.26 रूपए प्रति लीटर के भाव से मिल रहा है। वहीं दूसरी तरफ डीजल की कीमतों में भारी इजाफा हुआ है। डीजल का भाव 7.10 रूपए प्रति लीटर बढ़ा है। डीजल के दामों में हुए इस भारी उछाल से अब दिल्ली में 69.39 रूपए प्रति लीटर के भाव से डीजल मिल रहा है।


आपको बता दें कि दिल्ली सरकार द्वारा वैट में भारी इजाफा किया गया है। दिल्ली में पहले पेट्रोल पर वैट 27 फीसदी था, जिसे अब बढ़ाकर 30 फीसदी कर दिया गया है। वहीं डीजल के वैट की बात करें, तो इसमें करीब दोगुनी बढ़ोतरी की गई है। पहले डीजल पर वैट 16.75 फीसद था, जिसे अब 30 फीसद कर दिया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लॉकडाउन के चलते दिल्ली सरकार को राजस्व में बड़ा नुकसान झेलना पड़ा है, इसलिए अब सरकार पेट्रोल डीजल पर वैट बढ़ाकर अपने राजस्व में वृद्धि करना चाह रही है।

Back to top button