बॉलीवुड

इस शख्स के मोटापे ने बिगाड़ दिया खेल, वर्ना महाभारत में कृष्णा नितीश भारद्वाज नहीं यह शख्स होता

जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन चल रहा है, और इस दौरान सभी लोग अपने घरों में रहकर कोरोना जैसी महामारी से जंग लड़ रहे हैं, लॉक डाउन के बीच ही एक बार फिर से सबसे मशहूर सीरियल महाभारत का प्रसारण किया जा रहा है, महाभारत भारतीय टेलिविज़न इतिहास में सबसे सफल सीरियल माना जाता है, सबसे पहले इसको दूरदर्शन पर दिखाया गया था, ऐसे बहुत ही कम लोग होंगे जिनको इस बात का पता होगा कि डीडी नेशनल चैनल पर महाभारत का टेलीकास्ट रामायण से पहले किया जाने वाला था परंतु किसी वजह से इस सीरियल की शूटिंग में विलंब हो गया और यह बाद में प्रसारित किया गया था,

महाभारत सीरियल में मुकेश खन्ना से लेकर रूपा गांगुली और पुनीत इस्सर समेत तमाम कलाकारों ने अपनी बेहतरीन अदाकारी से दर्शकों का दिल जीत लिया था, लेकिन महाभारत में नितीश भारद्वाज के द्वारा निभाए गए भगवान श्री कृष्ण जी के रोल को दर्शकों द्वारा काफी अधिक पसंद किया गया .

महाभारत सीरियल में कृष्ण के रोल से नितीश भारद्वाज काफी पॉपुलर हुए हैं और इनकी भूमिका को लोग काफी पसंद भी कर रहे हैं, जब महाभारत सीरियल चल रहा था तब जनता नितीश भारद्वाज को काफी पसंद कर रही थी और उनके चाहने वाले दिन पर दिन बढ़ते ही जा रहे थे, इनका शांत स्वभाव और चेहरे पर मुस्कान सभी के दिलों पर एक अलग ही छाप छोड़ देती है, लेकिन क्या आप लोग जानते हैं नितीश भारद्वाज कृष्ण के रोल के लिए बीआर चोपड़ा की पहली पहली पसंद नहीं थे? जी हां, यह किस्सा बहुत ही दिलचस्प है, आखिर बीआर चोपड़ा की पहली पसंद महाभारत में कृष्ण के रोल के लिए कौन था? चलिए जानते हैं इसके बारे में।

आप लोगों ने महाभारत सीरियल में युधिष्ठिर का किरदार निभाने वाले गजेंद्र चौहान को देखा ही होगा, युधिष्ठिर के रोल के लिए इनको बहुत लोकप्रियता हासिल हुई है और इनके इस किरदार को लोगों ने काफी पसंद भी किया है, लेकिन आपको बता दें कि गजेंद्र चौहान की कास्टिंग महाभारत में श्री कृष्ण के रोल के लिए हुआ था, यह खुलासा खुद एक इंटरव्यू में गजेंद्र चौहान ने किया है, लेकिन इनके मोटापे की वजह से इनको कृष्ण का रोल नहीं मिल पाया था।

गजेंद्र चौहान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि मैं कृष्ण की भूमिका के लिए चुना गया था, परंतु उस समय के दौरान महाभारत, रामायण से पहले प्रसारित किया जाने वाला था, परंतु किसी वजह से इसमें देरी हो गई थी, लेकिन मुझे इस बात का पता नहीं था कि इसमें कितनी देरी होने वाली है, मैं उस समय मलयालम,, फिल्मों और रीजनल फिल्मों की शूटिंग में व्यस्त था, मैं उस समय साउथ में ही रहकर फिल्मों की शूटिंग कर रहा था और मैंने खूब चावल खाए थे, जिसकी वजह से मेरे शरीर का वजन काफी बढ़ गया और मैं मोटा हो गया था, जब मैं वहां से वापस लौटा तब रवि चोपड़ा साहब ने मुझे देख कर कहा कि तुम कृष्ण के रोल में फिट नहीं हो, क्योंकि तुम पहले से काफी मोटे हो गए हो, तब उन्होंने मुझे बलराम के रोल के लिए कहा लेकिन मुझे कृष्ण का रोल करना था इसलिए मैंने उनको मना कर दिया था।

इंटरव्यू के दौरान गजेंद्र चौहान आगे बताते हुए कहते हैं कि उस समय नितीश भारद्वाज का नाम कहीं पर भी नहीं आया था, महाभारत की शूटिंग आरंभ हो गई, तब चोपड़ा साहब ने मुझसे दोबारा से पूछा कि तुम कौन सा रोल करना चाहते हो? तब उनको इस बात का पता लगा कि कृष्ण के रोल के लिए और किसी को चुन लिया गया है, तब मैंने युधिष्ठिर के लिए स्क्रीन टेस्ट दिया था, रवि चोपड़ा, बी आर चोपड़ा ,डॉक्टर राही मासूम रजा साहब ने मेरा टेस्ट देखा और आखिर में पंडित नरेंद्र शर्मा जी ने मुझे इस रोल के लिए हां किया था।

Show More
Back to top button