अध्यात्म

ये 6 संकेत बताते हैं आपके घर पर नेगेटिव एनर्जी ने कब्जा कर लिया हैं

हम सभी की कोशिश यही होना चाहिए कि घर में पॉजिटिव एनर्जी का लेवल हमेशा ज्यादा हो. जब घर में सकारात्मक उर्जा की मात्रा अधिक होती हैं तो परिवार में सुख, शांति और समृद्धि रहती हैं. इसके विपरीत यदि घर में नेगेटिव एनर्जी का लेवल बढ़ने लगे तो घर की खुशियाँ गायब होने लगती हैं. नकारात्मक उर्जा के कारण घर में कई बुरी चीजें घटित होने लगती हैं. इनमें परिवार के सदस्यों के बीच अनबन, रिश्तों का कमजोर पड़ना, अधिक पैसा खर्च होना, बिमारी का ना जाना, मन उदास और अशांत रहना इत्यादि चीजें शामिल होती हैं. इन बातों को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको कुछ ऐसे संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस तरफ इशारा करते हैं कि आपके घर नकारात्मक उर्जा का प्रवाह तेज हो गया हैं. ऐसे में आपको अपने घर सकारात्मक उर्जा बढ़ाने की दिशा में कार्य शुरू कर देना चाहिए.

नकारात्मक उर्जा के संकेत

1. यदि आप या आपके घर का कोई भी सदस्य बहुत ज्यादा आलस करने लगा हैं, उसे सुस्ती आने लगी हैं और वो हमेशा थकान से भरा हुआ महसूस करता हैं तो ये इसी बात का इशारा हैं कि उसके अंदर नेगेटिव एनर्जी समाने लगी हैं. इस स्थति में आपको घर में मोर की तस्वीर या कोई प्राकृतिक नज़ारे वाली फोटो लगानी चाहिए.

2. सोने से पहले यदि आपके मन में सिर्फ नकारात्मकता विचार ही आते हैं तो इसका भी यही मतलब हैं कि आप जिस बेडरूम में सो रहे हैं वहां नेगेटिव उर्जा का स्तर अधिक हैं. इसे दूर करने के लिए बेडरूम में शिव पार्वती की तस्वीर लगाई जा सकती हैं.

3. यदि आप एक ही गलती बार बार दोहराते हैं तो ये भी आपके घर किसी बड़ी नकारात्मक शक्ति के होने की तरफ इशारा करता हैं. ये नेगेटिव शक्ति आपके दिमाग को भ्रष्ट कर रही हैं. आमतौर पर इंसान अपनी पहली गलती से सीखकर उसे दोबारा नहीं दोहराता हैं. लेकिन फिर भी यदि आपके परिवार में कोई यह गलती करे तो उसे डांटने की बजाए प्यार से समझाए.

4. यदि आपके मन में लगातार कुछ अनहोनी के घटित होने के विचार ही चलते रहते हैं तो यह भी इशारा हैं कि नेगेटिव एनर्जी ने आपको बुरी तरह जकड़ लिया हैं. इसके लिए आपको बजरंगबली की आराधना करते हुए हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए. इससे आपके मन में बुरे ख्यालात आना बंद हो जाएंगे.

5. यदि आपका या घर के किसी अन्य सदस्य का काम में बिल्कुल भी मन नहीं लग रहा हैं तो यह भी नेगेटिव उर्जा की वजह से हो सकता हैं. बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगना, बड़ो का बाहर और घर के कामों में दिल नहीं लगना ये सभी चीजें इसी बात की तरफ इशारा करती है कि आपके घर नेगेटिव उर्जा कब्जा जमाने लगी हैं. इस स्थिति में घर में सत्यनारायण की कथा करा लेना बेहतरीन आईडिया है. इस कथा से घर की सभी बुरी और नेगेटिव शक्तियां भाग जाती हैं.

6. घर में लड़ाई झगड़ों का अचानक से बढ़ जाना भी नेगेटिव उर्जा की देन होता हैं. ऐसे में घर के सभी लोगो को साथ मिलकर पूजा पाठ और आरती करना चाहिए. इसके अतिरिक्त घर में गंगा जल का छिड़काव भी किया जा सकता हैं.

Back to top button