स्वास्थ्य

कटेरी के फायदे और नुकसान (Kateri Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi)

कटेरी एक कांटेदार पौधा होता है और ये पौधे औषधियां गुणों से भरपूर होता है। इस पौधे का प्रयोग आयुर्वेदिक दवाइयों को बनाने में किया जाता है। इस पौधे की कई सारी प्रजातियां होती हैं। लेकिन आयुर्वेद में केवल तीन ही मुख्य प्रजातियों का प्रयोग दवा बनाने में किया जाता है। जिनके नाम इस प्रकार हैं छोटी कटेरी, बड़ी कटेरी और श्वेत कंटकारी है। कटेरी की जड़, पत्ते, फूल, फल और बीज में औषधि गुण पाए जाते हैं। ये पौधा भारत के लगभग हर राज्य में पाया जाता है। हालांकि काफी कम लोगों को कटेरी के फायदों के बारे में जानकारी होती है। इस लेख के माध्यम से आज हम आपको कटेरी के फायदे (Kateri Ke Fayde) बताने जा रहे हैं। ताकि आप भी इस पौधे का प्रयोग कर रोगों को दूर कर सकें।

कटेरी के फायदे

कटेरी के फायदे

कटेरी एक प्रकार का कंटीला पौधा होता है। इसके फायदे बहुत चमत्कारी होते हैं। कटेरी का पौधा कई बीमारी को दूर करने में गुणकारी साबित होता है। आइये जानते हैं कटेरी के फायदे विस्तार से –

सिर दर्द हो दूर

कटेरी के फायदे

सिर दर्द को दूर करने में ये पौधा सहायक साबित होती है। सिर दर्द होने पर कटेरी का काढ़ा बनाकर पी लें। इसका काढ़ा पीने से सिर की दर्द छूमंतर हो जाती है। काढ़ा पीने के अलावा कटेरी के फल का रस माथे पर लगाने से भी दर्द से आराम मिल जाता है। (यह भी पढ़ें – सिरदर्द दूर करने के उपाय)

आंखों का रोग करे सही

आंखों के रोगों को दूर करने में कटेरी का पौधा लाभदायक साबित होता है और इस पौधे की मदद से आंखों से जुड़े कई रोगों को सही किया जा सकता है। कटेरी (kateri plant) के पत्तों के रस को आंखों में डालने से आंखों की दर्द सही हो जाता है। वहीं रतौंधी और आंखे लाल होना पर इसके पत्तों का लेप लगा लें। इस लेप को एक पट्टी पर लगा लें और इस पट्टी को आंखों पर रख लें। 15 मिनट तक ये पट्टी आंखों पर ही रहने दें। ये उपचार करने से आंखों का लालपन सही हो जाएगा।

जुकाम से मिले आराम

कटेरी के फायदे

कटेरी के फायदे (Kateri Ke Fayde) जुकाम में लाभदायक होते हैं। जुकाम होने पर कटेरी का काढ़ा पी लें। इसका काढ़ा पीते ही जुकाम से निजात मिल जाएगा। कटेरी का काढ़ा तैयार करने के लिए आपको पित्तपापड़ा, गिलोय और छोटी कटेरी की जरूरत पड़ेगी। इन चीजों को अच्छे से साफ कर लें। उसके बाद आधा लीटर पानी में इन्हें डाल दें और इस पानी को अच्छे से पका लें। जब ये पानी एक चौथाई रहे जाए तो गैस को बंद कर दें। इस काढ़े को दिन में दो बार बनाकर पीएं। जुकाम एकदम सही हो जाएगा।

दांतों के दर्द में मददगार

कटेरी के फायदे

कटेरी के फायदे दांतों के संग भी हैं और इस पौधे की मदद से दांतों के दर्द को दूर किया जा सकता है। दांतों में दर्द की समस्या किसी को भी हो सकती है। दांत में दर्द होने पर दवाई का सेवन करने की जगह बस कटेरी की जड़, छाल, पत्ते और फल को पानी में उबल लें और इस पानी से कुल्ला कर लें। दांतों के दर्द से आपको राहत मिल जाएगी।

खांसी हो जड़ से खत्म

खांसी की समस्या से परेशान लोग रोज कटेरी के फूल का चूर्ण खाएं। इसका चूर्ण खाने से खांसी से आराम मिल जाता है। कटेरी के फूल का चूर्ण तैयार करने के लिए आप 20 से 30 कटेरी के फूल ले लें और इन्हें धूप में सूखा दें। जब ये अच्छे से सूख जाए तो इनको पीस लें और एक डब्बे में भरकर रख लें। दिन में रोज तीन बार इस चूर्ण का सेवन शहद के साथ करें। इस चूर्ण को खाने से खांसी सही हो जाएगी और गले को आराम मिल जाएगा।

पेट दर्द में फायदेमंद

पेट दर्द को दूर करने में भी कटेरी के फायदे असरदार साबित होते हैं। पेट दर्द होने पर कटेरी के फूल के बीजों का सेवन कर लें। ये बीज खाने से पेट दर्द गायब हो जाएगी। कटेरी के फूल के बीज पीस लें और फिर इन्हें छाछ में डाल दें। इस छाछ को पीते ही पेट को आराम पहुंचेगा और दर्द दूर हो जाएगी। इसी तरह से दस्त की समस्या होने पर भी अगर इसके बीजों का सेवन किया जाता है तो दस्त सही हो जाती है।

त्वचा से जुड़े कटेरी के फायदे

कटेरी के फायदे

त्वचा को सुंदर बनाने में भी कटेरी कारगर साबित होती है और कटेरी के फायेद त्वचा के साथ भी जुड़े हुए हैं। इस पौधे की जड़ का लेप चेहरे पर लगाने से त्वचा की कई समस्याएं सही हो जाती हैं। दाने होने पर, त्वचा के लाल होने पर और खुजली की समस्या होने पर आप इसकी जड़ का लेप चेहरे पर लगा लें। ये लेप चेहरे पर लगाने से ये परेशानियां दूर हो जाएंगी।

बालों से जुड़े कटेरी के फायदे

बालों को हल्दी बनाएं रखने में कटेरी लाभदायक होती है और इसका लेप बालों पर लगाने से बालों को मजबूती मिलती है। इतना ही नहीं जिन लोगों के बाल खूब झड़ते हैं उन लोगों को भी कटेरी का लेप बालों पर लगाना चाहिए। इसका लेप बालों पर लगाने से बाल गिरना बंद हो जाते हैं।

कटेरी के फायदे

गंजापन होने पर कटेरी का लेप बालों पर लगा लें। ये लेप बालों पर लगाने से नए बाल उग जाएंगे और गंजापन दूर हो जाएगा। लेप तैयार करने के लिए आपको श्वेत कंटकारी या कटेरी की जरूरत पड़ेगी। श्वेत कंटकारी के फल का रस निकाल लें और इसमें शहद मिलाकर इसे बालों पर लगा लें। ये रस सिर पर लगाने से नए बाल उगने लग जाते हैं। इस रस को आप हफ्ते में तीन बार अपने बालों पर लगाएं।

रूसी होने पर अपने बालों पर श्वेत कंटकारी के पत्तों का लेप लगा लें। इस लेप को अच्छे से सूखने दें और जब ये सूख जाए तो बालों को धो लें। श्वेत कंटकारी के पत्तों का लेप बालों पर लगाने से रूसी खत्म हो जाएगी।

कटेरी के नुकसान

कटेरी के फायदे तो अनेक हैं। लेकिन इसके कई तरह के नुकसान भी हैं। जो कि इस प्रकार हैं।

  • कटेरी का काढ़ा पीने से कई लोगों को उल्टी की शिकायत हो जाती हैं। इसलिए आप इसका काढ़ा अधिक ना पीएं।
  • छोटे बच्चों को इसका काढ़ा पीने को ना दें। कटेरी का काढ़ा पीने से बच्चों को पेट में दर्द की शिकायत हो सकती है।
  • गर्भवती महिलाएं इसका सेवन ना करें।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close