कुछ आदतें करती हैं दैवीय शक्तियों को आकर्षित, क्या आपमें भी हैं ये आदतें?

जिन घरों में लोग विधिवत देवी-देवताओं की पूजा करते हैं, उन घरों में हमेशा दैवीय शक्तियों का वास रहता है। घर में होने वाली पूजा के समय अगर आप छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखते हैं तो आपके घर की सभी परेशानियां तो दूर हो ही जाती हैं, साथ ही आपके ऊपर लक्ष्मी की कृपा भी बरसती है। प्रत्येक हिन्दू अपने घर में पूजा के लिए पवित्र स्थान बनाता ही है।

करें हर रोज सुबह-शाम पूजा:

जरूरी नहीं है कि सबके घर में विशाल मंदिर ही बनवाया जाए, लोग अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार ही मंदिर का निर्माण करवाते हैं। आप तो जानते ही हैं कि इन मंदिरों में सुबह और शाम को पूजा करने से व्यक्ति के अन्दर सकारात्मक उर्जा का संचार होता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कौन सी ऐसी रोजमर्रा की आदते हैं, जिनसे दैवीय शक्तियां आपकी तरफ आकर्षित होती हैं।

अवश्य करें ये काम:

*- घर में कुछ हो ना हो तुलसी का पौधा अवश्य होना चाहिए, इसे साक्षात् लक्ष्मी का रूप माना जाता है। अगर घर के बाहर तुलसी का पौधा लगा हुआ है तो जो भी हवा घर में आएगी वह पवित्र होकर आएगी। हर दिन तुलसी को जल चढ़ाने से आपके स्वास्थ्य के साथ-साथ भगवान विष्णु भी प्रसन्न रहते हैं। घर में धन-सम्पदा की कोई कमी नहीं रहती है।

*- घर में एकाक्षी नारियल की पूजा अवश्य होनी चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से आपके ऊपर मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है और अन्न-धन की कभी कमी नहीं होती है।

*- जब भी पूजा करें, इस बात का अवश्य ध्यान रखें की पश्चिम दिशा की तरफ मुंह करके पूजा की जाए। यह अत्यंत शुभ माना जाता है। पूजा घर में कभी भी मूर्तियां प्रवेश द्वार के सामने नहीं लगानी चाहिए।

*- घर में मंदिर स्थापित करने से पहले इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि वहां सूर्य की रौशनी और ताज़ी हवा आती हो। यह आपके घर को उपरी शक्तियों से बचाने में मदद करती हैं।

*- सुबह और शाम को पूजा करते समय घर के हर एक कोने में घूमकर घंटी बजाएं, ऐसा करने से घर में छिपी नकारात्मक उर्जा बाहर निकल जाती है।

*- रात को सोने से पहले मंदिरों में परदे लगा देने चाहिए ताकि भगवान भी चैन की नींद ले सकें।

*- घर में समय-समय पर गौमूत्र का छिड़काव करते रहना चाहिए। ऐसा करने से घर में दैवीय शक्तियों का वास रहता है।

*- पूजा घर को किसी अन्य झाड़ू से साफ ना करें, उसकी सफाई के लिए एक अलग झाड़ू रख लें। यही काम आप पोछे से साथ भी कर सकते हैं। पूजा घर में पोछा लगाने के लिए एक पोछा अलग से रख लें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.