राजनीति

6 साल की उम्र में दादा चंद्रबाबू नायडू से भी दौलतमंद है पोता, दोनों के पैसों में है इतना अंतर

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और तेलुगू दशम पार्टी टीडीपी के अध्यक्ष श्री एन चंद्रबाबू नायडू लगातार दूसरे साल भी अपने 6 साल के पोते से दौलत के मामले में कम है. चंद्रबाबू नायडू के पोते का नाम नारा देवांश है. आपको जानकर हैरानी होगी की देवांश अपने दादा से संपत्ति के मामले में अधिक अमीर है. देवांश की प्रॉपर्टी अपने दादा से लगभग 15. 6 करोड़ रुपए ज्यादा है. चंद्रबाबू नायडू के बेटे लोकेश ने अपनी फैमिली के सभी लोगों की प्रॉपर्टी और देनदारो का लगातार नौवें साल ब्यौरा दिया है. इस ब्योरे में पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, नायडू की पत्नी भुवनेश्वरी देवी,लोकेश की पत्नी ब्रह्माणी और उनके बेटे देवांश का नाम शामिल है.

पहले की अपेक्षा चंद्रबाबू नायडू इस बार ₹8700000 अधिक दौलतमंद साबित हुए हैं. चंद्रबाबू नायडू की कुल संपत्ति 3.7 करोड़ है. लेकिन होम लोन के कारण उनके ऊपर 5 .13 करोड़ की देनदारी भी है. परिवार को पूर्वजों से विरासत में मिले बिजनेस को संभालने वाली भुनेश्वरी देवी की संपत्ति में 8 करोड रुपए की बढ़ोतरी हुई है. भुनेश्वरी देवी की टोटल प्रॉपर्टी 39 .58 करोड रुपए है. सबसे दिलचस्प बात यह है कि लोकेश कहते हैं कि पिछले साल की तुलना में इस बार वह दो करोड़ रुपए की गरीबी का सामना कर रहे हैं. क्योंकि पिछले साल की अपेक्षा इस साल उनकी संपत्ति की कुल कीमत कम होकर ₹190000000 हो गई है. लोकेश के ऊपर 5.7 करोड रुपए की देनदारी भी है. लोकेश की पत्नी ब्राह्मणी भी पिछले साल की अपेक्षा इस साल 4.5 करोड़ के साथ और भी ज्यादा दौलतमंद हो गई है. ब्राह्मणी की कुल संपत्ति 11.51करोड़ है

ध्यान देने वाली बात ये है कि तेलुगूदेशम पार्टी के अध्यक्ष व आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू कुछ दिनों पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिले. इस मुलाक़ात के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने तेलंगाना में होने वाले विधानसभा चुनाव और अगले साल होने वाले आम चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष से चर्चा की. राहुल गांधी से मिलने के बाद चंद्रबाबू नायडू और राहुल गांधी ने एक साथ मिलकर एक प्रेस कांफ्रेंस का भी आयोजन किया. प्रेस कांफ्रेंस के दौरान टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू बोले मेरा उद्देश्य सिर्फ देश और लोकतंत्र की रक्षा करना है. हम सभी पार्टियों को एक साथ एक प्लेटफॉर्म पर लाने की तैयारी में लगे हुए है, जिससे हम एक साथ भारतीय जनता पार्टी से लोकतंत्र का बचाव कर सकें.

हम सभी लोगों को एक साथ काम करने की आवश्यकता है. चंद्र बाबू नायडू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हमनें सभी पार्टियों को एक साथ मिलकर काम करने का न्यौता दिया है. चंद्रबाबू ने कहा कि हम सभी को पहले राष्ट्र के बारे में सोचने की आवश्यकता है, अगर हम देश का बचाव कर पाते हैं तभी सब कुछ बच पाएगा. हमें सभी संस्थाओं को भी बचाने की आवश्यकता है. फिर चाहे बात सीबीआई की हो या फिर आरबीआई की. इन सभी संस्थाओं में सरकार दखंलदाजी कर रही है जो बिलकुल गलत है.

Back to top button