स्वास्थ्य

इन देशों के लोगों को छू भी नहीं पा रहा है Corona Virus, ये देखकर वैज्ञानिक भी हुए हैरान

कोरोना वायरस (Corona Virus) अब तक का सबसे घातक वायरस माना जा रहा है और इस वायरस की चपेट में आकर 1770 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस की शुरूआत चीन देश से हुई है और अब ये वायरस अन्य देशों में भी पहुंच चुका है। ये वायरस कितना घातक है इसका अंदाजा इसी चीज से लगाया जा सकता है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है और देशों को सावधान रहने को कहा गया है। कोरोना वायरस को देखते हुए कई देशों ने सख्त कदम भी उठाए हैं और अपने देश में आने वाले हर व्यक्ति की जांच कर रहे हैं। जो लोग जांच में एकदम सेहतमंद पाए जा रहे हैं केवल उन्हीं को देश में आने के अनुमित दी जा रही है। वहीं जांच में जिन लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जा रहे हैं, उन लोगों को निगरानी में रखा जा रहा है और उनका इलाज किया जा रहा है।

70,548 से अधिक लोग हैं संक्रमति

चीन में इस वक्त करीब 70,548 लोग इस वायरस से संक्रमित है और इस वायरस के कारण अभी तक 1770 लोग दम तोड़ चुके हैं। चीन के अलावा इस वायरस के मामले अन्य देशों में भी देखने को मिल रहे हैं। कोरोना वायरस से बचने के लिए उत्तर कोरिया ने चीन से आने वाले विमान और ट्रेन पर पाबंदी लगा दी है। ताकि ये वायरस उनके देश में ना पहुंच सके। वहीं चीन में बढ़ते इस वायरस को रोकने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपनी एक टीम चीन में भेजी है। जो कि इस वायरस के रोकने का काम करेगी।

चीन के अलावा दुनिया के ऐसे कई देश हैं जहां पर कोरोना वायरस के कई मामले देखने को मिले हैं। नेपाल, भारत और अन्य एशिया देशों में कोरोना वायरस के कुछ मामले सामने आए हैं। नेपाल में हाल ही में एक व्यक्ति के अंदर इस वायरस के लक्षण पाए गए हैं। जिसके बाद से भारत सरकार काफी सतर्क हो गई है और नेपाल से भारत आने वाले लोगों की भी जांच की जा रही है। भारत सरकार के अनुसार अभी केरल में तीन लोगों के नमूने पॉजटिव पाए गए हैं। ये तीनों लोगों का नाता चीन के वुहान से है।

जहां पर एशिया देशों में कोरोना वायरस के कुछ मामले देखने को मिले हैं। वहीं अफ्रीका और साउथ अमेरिका कोरोना वायरस से मुक्त है। अंतरराष्ट्रीय संस्था जॉन हॉप्किन्स की साइट के मुताबिक कोरोना वायरस चीन से शुरू हुआ है जो कि पूरी दुनिया में फैला है। चीन के अलावा भारत, अमेरिका, यूरोप, दक्षिण एशिया और रूस में कुछ मामले आए हैं। मगर हैरानी की बात ये है कि अफ्रीका, साउथ अमेरिका और ब्राजील में एक भी कोरोना वायरस का मामला देखने को नहीं मिला है। जिसकी वजह से वैज्ञानिक काफी दंग हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वैज्ञानिकों का ये मानना है कि इन देशों के लोग इस वायरस के संक्रमण से इसलिए बचे हुए हैं। क्योंकि अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका काफी गर्म देश हैं और इन जगहों का औसत तापमान एशिया देशों के मुकाबले 15-20 डिग्री ज्यादा ही रहता है। जिसके कारण इस देश में ये वायरस नहीं फैल पा रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close