राजनीति

कांग्रेसी नेता ने केजरीवाल की तारीफ की तो भड़क गए अजय माकन, बोले ‘भाई पार्टी छोड़नी हैं’

देश की राजधानी में कुछ दिनों पहले जो विधानसभा चुनाव हुए थे उसमे आम आदमी पार्टी (AAP) ने भारी सीटों से लगातार तीसरी बार जीत हासिल की. केजरीवाल के तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने से जहाँ एक तरफ AAP वाले खुश हैं तो बीजेपी वाले दुखी हैं. हालाँकि इनके बीच चुनाव में एक भी सीट ना लाने वाली कांग्रेस बीच में लटकी हुई हैं. इस पार्टी के कई नेताओं को अपनी हार का उतना गम नहीं हैं जितनी AAP के जित की ख़ुशी हैं. शायद यही वजह हैं कि कांग्रेस पार्टी के कई नेता अरविन्द केजरीवाल की तारीफों के पूल बाँध रहे हैं. हालाँकि इस वजह से कांग्रेस के नेता लोग आपस में ही भीड़ गए हैं. इस पार्टी में कईयों को केजरीवाल की तारीफ़ पच नहीं रही हैं. मसलन इसी बात को लेकर कांग्रेस पार्टी के दो बड़े नेता ने ट्विटर पर युद्ध छेड़ दिया. आइए इस पुरे मामले को विस्तार से जानते हैं.

दरअसल केजरीवाल की शानदार जित पर मुंबई कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने एक ट्वीट कर उनकी तारीफों के पूल बाँध दिए. अब एक कांग्रेस नेता का AAP नेता की तारीफ़ करना दुसरे कांग्रेसी अजय माकन को बुरा लग गया. उन्होंने तो मिलिंद जी को ये तक बोल दिया कि ‘पार्टी छोड़नी हैं क्या?’ बात ये हुई कि मिलिंद देवड़ा ने रविवार रात ए ट्वीट कर दिल्ली सरकार के रेवेन्यू बढ़ाने की तारीफ़ कर डाली. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा “आपके साथ एक कम ज्ञात जानकारी साझा कर रहा हूँ. अरविन्द केजरीवाल ने पिछले 5 सालो में अपना रेवन्यू डबल कर 60 हजार करोड़ कर दिया हैं. इस तरह दिल्ली अब भारत का सबसे ज्यादा आर्थिक रूप से सक्षम राज्य हैं.’


मिलिंद देवड़ा ने जब केजरीवाल सरकार की तारीफ़ करी तो खुद अरविन्द केजरीवाल ने उनका ये ट्वीट अपने अकाउंट से रीट्वीट कर दिया. बस यही बात कांग्रेस नेता अजय माकन को चुभ गई और उन्होंने मिलिंद देवड़ा को खरी खोटी सूना दी. उन्होंने इस ट्वीट के रिप्लाई में लिखा “भाई यदि तुम कांग्रेस पार्टी छोड़ना चाहते हो तो छोड़ दो. लेकिन आधे अधूरे फैक्ट्स मत बताओ. चलिए अब मैं भी आपको कुछ कम ज्ञात फैक्ट्स बताता हूँ.”

इसके बाद अजय माकन ने सही तथ्यों को शेयर करते हुए लिखा – 1997-98 (रेवेन्यू) 4073 करोड़, 2013-14 (रेवेन्यू) 37459 करोड़ मतलब कांग्रेस के समय रेवेन्यू 14.87 प्रतिशत बढ़ा था. 2015-2016 (रेवेन्यू) 41129, 2019-20 (रेवेन्यू) 60000. मतलब आम आदमी पार्टी की सरकार के कार्यकाल में रेवेन्यू 9.90 प्रतिशत बढ़ा हैं.

वैसे इस पुरे मामले पर आपकी क्या राय हैं हमें कमेंट में जरूर बताए.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close