राजनीति

क्या केजरीवाल को सता रहा है हार का डर? हारने पर आम आदमी पार्टी फोड़ेगा EVM पर ठिकड़ा

एग्जिट पोल का रिजल्ट आने के बाद आम आदमी पार्टी ने EVM का रोना शुरू कर दिया है, क्यों की बताया जा रहा है की एग्जिट पोल्ल के आंकड़े शाम ४ बजे तक के आधार पर ही बने थे और ४ बजे के बाद हुए वोटिंग में भाजपा के लिए बहुत ज़्यादा मतदान हुआ था। AAP के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने दो वीडियो ट्वीट किए और आरोप लगाया कि दिल्ली में शनिवार के मतदान के लिए इस्तेमाल की जाने वाली इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) को छेड़छाड़ के लिए ले जाया जा रहा था। उन्होंने पूछा की , “ईवीएम के साथ सेना नहीं चलती है? इस अधिकारी को बाबरपुर विधानसभा क्षेत्र के सरस्वती विद्या निकेतन स्कूल में लोगों ने ईवीएम के साथ पकड़ा है।”

संजय सिंह ने कहा कि ईवीएम, जिन्हें सील किए जाने के बाद सीधे कमरों में ले जाया जाना चाहिए, कुछ अधिकारियों के पास थे। उन्होंने कहा कि विश्वास नगर विधानसभा क्षेत्र से भी ऐसी ही घटना सामने आई थी। “चुनाव आयोग को यह भी जांच करनी चाहिए कि ये ईवीएम कहाँ ले जाई जा रही हैं। पास में कोई मतगणना केंद्र नहीं हैं ।

हालांकि संजय सिंह का यह आरोप बेबुनियाद निकला, और इलेक्शन कमीशन ने इस आरोप को नकार दिया

कल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मतदान के आंकड़ों के लेकर ट्विटर पर ट्वीट किया , “बिल्कुल चौंकाने वाला। चुनाव आयोग क्या कर रहा है? मतदान के कई घंटे बाद भी वे मतदान के आंकड़े जारी क्यों नहीं कर रहे हैं?”

संजय सिंह ने अंतिम मतदाता मतदान संख्या की घोषणा में “देरी” कहे जाने पर पोल पैनल से सवाल किया। “पिछले 70 सालों में ऐसा पहली बार होगा जब मतदान के एक दिन बाद भी मतदाता मतदान की घोषणा नहीं की गई है। इससे स्पष्ट है कि कुछ पक रहा है।”

वैसे भारत की विपक्ष की राजनीति में एक बात अजीब है जब वे जीतते हैं, तो ईवीएम में कोई समस्या नहीं होती है, लेकिन जब वे हारते हैं, तो ईवीएम में समस्या होती है।”

चुनाव आयोग का प्रेस कॉन्फ्रेंस

देर शाम, दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) रणबीर सिंह ने आरोपों को खारिज करते हुए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया

प्रेस कॉन्फ्रेंस में चुनाव आयोग ने कहा की “हमने वीडियो की जांच की। हमने पाया कि एक अनुभाग अधिकारी दो मशीनों को ले जा रहा था जो आरक्षित मशीन थी और जिनका चुनाव पर इस्तेमाल नहीं किया गया था , यह मशीन रिजर्व्ड मशीन थी, जो किसी EVM के खराब होने के हालत में इस्तेमाल किये जाते।

उन्होंने यह भी कहा कि अंतिम मतदान का आंकड़ा 62.59 प्रतिशत है । “मतदान के एक दिन बाद संख्या जारी करना असामान्य नहीं है। रिटर्निंग अधिकारी रात भर व्यस्त रहे। इसमें थोड़ा समय लगा है। लेकिन  डेटा एंट्री पर ग़लती न हो इस के लिए यह भी ज़रूरी है ।

मनोज तिवारी ने AAP पर आरोप लगाया

दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी ने AAP पर आरोप लगाया कि जब वह मंगलवार को चुनाव परिणाम घोषित होने वाली है, और आम आदमी पार्टी अपने हारने का बहाना तलाश रही थी। मनोज तिवारी ने AAP पर संवैधानिक संस्था का अपमान करने का आरोप लगाया। तिवारी ने कहा, “यह उनका बहाना है क्योंकि वे जानते हैं कि भाजपा जीत रही है। यह अजीब है जब वे जीतते हैं, तो ईवीएम में कोई समस्या नहीं होती है, लेकिन जब वे हारते हैं, तो ईवीएम में समस्या होती है।”

पहली बार नहीं हुआ है ऐसा

AAP ने यह भी दावा किया कि ईवीएम से छेड़छाड़ के कारण 2017 में पंजाब चुनाव हार गई थी। उसी साल बीजेपी द्वारा दिल्ली के लोकसभा चुनाव जीतने के बाद भी यह मुद्दा उठा।

FOOLPROOF सुरक्षा

“सभी 21 मतगणना केंद्रों पर अर्धसैनिक बलों सहित बहु-परत सुरक्षा लागू है। 24×7 सीसीटीवी निगरानी चालू है। पीसीआर वैन तैनात हैं। अपराध शाखा और विशेष सेल काम पर हैं।”

Show More

Related Articles

Back to top button
Close