पिता के निधन के बाद बहुत बुरे हालात से गुजरे सैफ, बोले- ‘पटौदी पैलेस के लिए दी भारी रकम और….’

फिल्मी दुनिया में बहुत से ऐसे सितारे हैं जिन्होंने अपने माता-पिता के रहते कभी गरीबी देखी ही नहीं। उनमें से एक सैफ अली खान हैं जिन्होंने पटौदी नवाब के तौर पर नवाब और क्रिकेटर मंसूर अली खान के घर जन्म लिया था। इसके अलावा उनकी पत्नी शर्मिला टैगोर भी बॉलीवुड की पॉपुलर एक्ट्रेस रही हैं। मगर एक दौर आया जब सैफ अली खान को काफी चीजों से गुजरना पड़ा और ये दौर था उनके पिता के निधन के समय। पिता के निधन के बाद बहुत बुरे हालात से गुजरे सैफ, यहां तक इन्हें अपना पटौदी पैलेस दूसरों से खरीदना पड़ा था।

पिता के निधन के बाद बहुत बुरे हालात से गुजरे सैफ

पटौदी के नवाब सैफ अली खान अपनी फैमिली से बहुत जुड़ाव रखते हैं और अक्सर अपने परिवार के बारे में कन्सर्न रहकर बात करते हैं। हाल ही में सैफ ने अपने दिए एक इंटरव्यू में पापा मंसूर अली खान को खोने के दर्द के बारे में बात की। सैफ ने बताया कि पापा के निधन के बाद किस तरह से उनका पटौदी पैलेस किराए पर चला गया था। मिड डे से बातचीत में सैफ ने बताया, ‘मैंने सीखा है कि आप किसी की सोच के खिलाफ बहस नहीं कर सकते हैं। चाहे वे सच हों या नहीं हों। लोगों की एक निश्चित धारणा है और यहां तक कि जब मेरे पिता का निधन हुआ तो पटौदी पैलेस नीमराणा होटल्स को किराए पर मिल गया था और अमन नाथ के साथ Francis Wacziarg मिलकर होटल चलाते थे।’

सैफ अली ने आगे बताया, ‘जब फ्रांसिस का निधन हो गया तो नीमराणा होटल्स वालों ने कहा कि अगर मैं पटौदी पैलेस वापस चाहता हूं तो मैं उन्हें बता दूं। मैंने उनसे कहा कि मुझे ये वापस चाहिए। फिर उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा, ठीक है, आप ये ले लो लेकिन आपको हमें इसके लिए काफी पैसे देने होंगे। इसके बाद मैंने जो भी अपनी फिल्मों से कमाया था उस पैसे से पटौदी पैलेस वापस ले लिया।’

जब सैफ भूल गए थे पटौदी पैलेस का रास्ता

21 सितंबर को करीना कपूर का जन्मदिन होता है और इस पार्टी को सैफ अली खान ने पटौदी पैलेस में रखा था। पार्टी की तैयारी के लिए सैफ करीना और तैमूर पहले ही पहुंच गए थे। मगर एक रिपोर्ट्स में ये बात सामने आई कि सैफ हरियाणा में मौजूद पटौदी पैलेस एसयूवी से वाय रोड जा रहे थे। मगर ड्राइव करते हुए ड्राइवर ने गलत टर्न ले लिया और सैफ को भी पटौदी पैलेस का सही रास्ता नहीं मिल रहा था। गूगल पर लोकेशन भी सही तरह से नहीं आ रही थी और लोकेशन को लेकर कन्फ्यूजन सा हो गया था। इसके बाद सैफ को कार से उतरकर मौजूद स्थानीय लोगों से रास्ता पूछना पड़ा था। ये बात मीडिया में आते ही लोगों ने इनकी आलोचनाएं भी की क्योंकि अपने ही पैतृक निवास का इन्हें रास्ता नहीं मालूम था जहां अक्सर सैफ जाया करते हैं। सैफ अली खान का पटौदी पैलेस से खास लगाव है और वे चाहते हैं उनके पूर्वजों की विरासत हमेशा बनी रहे और इसे बचाए रखने के लिए सैफ हमेशा इसका ख्याल रखते हैं।