10 साल बाद दोबारा होगी राजनीति में संजय दत्त की एंट्री, महाराष्ट्र सरकार के मंत्री का दावा

भारतीय सियासत में इन दिनों फिल्म स्टार्स की दिलचस्पी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। लोकसभा चुनाव के दौरान कई स्टार्स ने राजनीति पार्टी ज्वाइन की थी, तो कईयों ने पहली दफा चुनाव भी लड़ा था। इसी सिलसिले में अब बॉलीवुड के धाकड़ अभिनेता संजय दत्त का नाम सामने आ रहा है। जी हां, संजय दत्त का नाम एक फिर से राजनीति में न सिर्फ जोड़ा जा रहा है, बल्कि पूरी तरह से दावा भी कर दिया गया है। इतना ही नहीं, संजय दत्त किस पार्टी में शामिल होंगे, उस पार्टी का भी ऐलान हो चुका है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त की निजी लाइफ काफी दिलचस्प रही है। इनके निजी लाइफ में कभी भी कुछ भी हो जाता है और वो भी बेहद अनोखे ढंग से, जिसके बारे में लोग सोच भी नहीं पाते हैं। इसी सिलसिले में अब जब संजय दत्त के सियासी पारी का दावा किया जा रहा है, तो उनके फैंस को इसमें भी कुछ ट्विस्ट की उम्मीद है। बता दें कि सालों पहले संजय दत्त ने मजबूरी में आकर राजनीति से खुद को दूर कर लिया था, लेकिन उनकी बहन अब भी सियासी पारी खेल रही हैं।

सियासी पारी खेलने के लिए तैयार संजय दत्त

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री महादेव जानकर ने संजय दत्त रिटर्न इन पॉलिटिक्स का दावा जोरो शोरो से कर रहे हैं। महादेव का कहना है कि संजय अगले महीने राजनीति में वापसी करेंगे और वे उनकी पार्टी से जुड़ेगे। बता दें कि महादेव की पार्टी का नाम राष्ट्रीय समाज पार्टी है, जोकि महाराष्ट्र सरकार की सहयोगी पार्टी है। मतलब साफ है कि संजय दत्त अपनी सियासी पारी की दोबारा से शुरुआत एनडीए से करने वाले हैं, जैसाकि दावा किया जा रहा है, लेकिन उनकी तरफ से कोई बयान नहीं आया है।

25 सितंबर को होगी संजय दत्त की राजनीति में एंट्री

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री महादेव जानकर ने दावा करते हुए कहा कि संजय दत्त 25 सितंबर को हमारी पार्टी ज्वाइन कर लेंगे, जिसको लेकर वे काफी ज्यादा उत्साहित हैं। बता दें कि हाल ही में संजय दत्त ने एक वीडियो जारी कर महादेव और उनकी पार्टी की खूब तारीफ की थी, जिसके बाद से ही यह उम्मीद लगाई जा रही है। संजय दत्त ने वीडियो में कहा कि मैं राष्ट्रीय समाज पार्टी को बहुत बधाई और सफलता की शुभकामनाएं देता हूं। साथ ही उन्होंने कहा कि पशुपालन एवं डेयरी विकास मंत्री महादेव जानकर मेरे मित्र हैं।

दस साल पहले इस पार्टी में हुए थे शामिल


साल 2009 में संजय दत्त ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन किया, जिसके बाद उन्हें लखनऊ से चुनाव लड़वाने की तैयारी भी हो गई थी, लेकिन तभी उनकी नैया किनारे पर आकर डूब गई और वे चुनाव लड़ने से वंचित रह गए। दरअसल, उसी समय अवैध हथियार रखने पर कोर्ट द्वारा दोषी करार दिए जाने की वजह से वे चुनाव नहीं लड़ पाए और तब से लेकर अब तक उन्होंने राजनीति से दूरी बना रखी है।