समाचार

सुषमा स्वराज के पति को राहुल गांधी ने भेजा लेटर और कही ये बात

विश्व पटल पर भारत का झंडा गाड़ने वाली सुषमा स्वराज अब हमारे बीच नहीं रही, जिनका अंतिम संस्कार बुधवार को लोधी रोड शवदाह गृह में किया गया। अंतिम संस्कार के दौरान बीजेपी के तमाम दिग्गज नेता और कार्यकर्ताओं के साथ ही विपक्ष के भी कुछ बड़े नेता मौजूद रहें, जिसके बाद राहुल गांधी ने उनके पति को लेटर लिखा है। जी हां, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सुषमा स्वराज के निधन के बाद उनके पति को लेटर लिखा है, जिसमें उन्होंने भारत की बेटी के बारे में कई बातें लिखी हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

सुषमा स्वराज के निधन की खबर सुनने के बाद राहुल गांधी ने पहले ट्वीट से उन्हें श्रद्धांजलि दी, जिसके बाद उन्होंने बुधवार को कौशल स्वराज के नाम एक लेटर लिखा। इस लेटर में राहुल गांधी ने सुषमा स्वराज के बारे में लिखने के साथ ही उनके परिवार को इस दुख की घड़ी हिम्मत दिया। बता दें कि सुषमा स्वराज का व्यक्तित्व ही ऐसा था कि उन्हें विपक्षी नेता भी प्यार थे। मतलब साफ है कि विपक्षी नेताओं के साथ सुषमा स्वराज का मतभेद हुआ करता था, लेकिन मनभेद कभी नहीं हुआ।

सुषमा स्वराज के पति को राहुल गांधी का लेटर

स्वर्गीय सुषमा स्वराज के पति कौशल स्वराज को राहुल गांधी ने एक लेटर लिखा है, जिसमें उन्होंने अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है। इस लेटर में राहुल गांधी ने लिखा कि वो उनकी पत्नी के इस असमय निधन से बेहद दुखी हैं। उनके निधन से हमने एक असाधारण सांसद और प्रतिभाशाली वक्ता को खो दिया है। इसके अलावा राहुल गांधी ने सुषमा स्वराज के विदेश मंत्री रहते हुए कार्यकाल के बारे में भी लिखते हुए कहा कि उन्होंने ज़रुरतमंद लोगों की हमेशा मदद की, जिससे विश्व पटल पर भारत का सम्मान बढ़ा।

राहुल गांधी ने अपने लेटर में आगे लिखा कि इस मुश्किल समय में आपके और आपकी बेटी बांसुरी के लिए मेरी संवेदनाएं हैं। साथ ही सुषमा जी की विरासत हमेशा जिंदा रहेगी, जोकि लाखों भारतीयों के जीवन को प्रभावित करती रहेगी। इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने आगे लिखा कि इस दुख की घड़ी में आपके लिए साहस और शांति की प्रार्थना करता हूं। बता दें कि राहुल गांधी का यह लेटर तेज़ी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

राहुल गांधी ने किया था ये ट्वीट

सुषमा स्वराज के स्वर्गवास की खबर सुनते ही राहुल गांधी ने ट्वीट कर शोक जताया था, जिसमें उन्होंने लिखा था कि सुषमा स्वराज के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं। वो एक असाधारण राजनीतिज्ञ, एक प्रतिभाशाली वक्ता और असामान्य सासंद थीं, जिनकी मित्रता विपक्षी नेताओं के साथ गहरी थी। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ है। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें। बता दें कि सुषमा स्वराज के अंति संस्कार में सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह मौजूद थे।

Back to top button
?>