ब्रेकिंग न्यूज़

बेटा मैदान में धड़ाधड़ मार रहा था चौके छक्के, नज़ारा देख स्टेडियम में बैठे पिता हुए बेहोश

क्रिकेट एक ऐसा खेल हैं जिसका क्रेज सिर्फ इंडिया में ही नहीं बल्कि बाकी कई देशो में भी हैं. जब भी कोई क्रिकेटर मैदान में उतरता हैं तो सभी को बल्लेबाज के लगाए चोक छक्के देखने में बड़ा मजा आता हैं. ये मैच का सबसे बड़ा आकर्षण होता हैं. ऐसे में जरा सोचिये कि यदि ये चौके छक्के लगाने वाला शख्स यदि आप ही बेटा हो तो आप कितना गर्व महसूस करेंगे. अपने बेटे को लाइव मैच में अच्छा प्रदर्शन करता देख यक़ीनन हर बाप का सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा. इसी फीलिंग के साथ अविष्का फर्नांडो के पिता भी अपने बेटे का मैच देख रहे थे. हालाँकि इस मैच के बीच में ही कुछ ऐसा हुआ कि वो अचानक बेहोश हो गए और उन्हें हॉस्पिटल ले जाना पड़ा. आइये इस मामले को थोड़ा और विस्तार से जान लेते हैं.

 

दरअसल ये पूरी घटना 28 जुलाई यानी रविवार को कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम की हैं. इस दिन श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच के बीच जोरदार मैच चल रहा था. इस मैच में अविष्का फर्नांडो ने बहुत ही बढ़िया तरीके से खेला. फर्नांडो ने इस मैच में इतना शानदार प्रदर्शन किया कि उनकी टीम जित की और अग्रसर होने लगी. इस मैच में उन्होंने 75 गेंदों में 82 रन बनाए थे. हालाँकि उनकी पारी के बीच में ही स्टेडियम में कुछ ऐसी अनहोनी हो गई जिसे देख हर कोई हक्का बक्का रह गया.

इस स्टेडियम में अविष्का फर्नांडो के पिताजी भी मौजूद थे. वे अपने बेटे का मैच एन्जॉय कर ही रहे थे कि बीच मैच में वे अचानक बेहोश हो गए. बताया जा रहा हैं कि फर्नांडो के पिताजी डायबिटीज के मरीज भी हैं. जब वे स्टेडियम में गिरे तो लोगो ने उन्हें तुरंत अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया. हालाँकि उनके बेटे फर्नांडो को इस बात का पता नहीं था कि उनके पिता स्टेडियम में गिरकर बेहोश हो गए हैं. इसलिए उन्होंने उस दौरान अपनी पारी जारी रखी थी. हालाँकि जब वे आउट हुए और वापस गए तब उन्हें इस बात की जानकारी हासिल हुई. गरिमत ये रही कि उनके पिताजी को कुछ हुआ नहीं और फिलहाल वे खतरे से भी बाहर हैं. इस बात कि जानकारी खुद फर्नांडो ने मैच ख़त्म होने के बाद मीडिया को दी.

बता दे कि हाल ही में फर्नांडो ने अपने वैन डे मैच का दूसरा अर्द्धशतक लगाया था. उनका कहना हैं कि मैं शतक पूरा नहीं कर सका इस बात का दुःख भी नहीं हैं. बल्कि इस बात की ख़ुशी हैं कि टीम जीत गई. इस जीत के साथ ही अब श्रीलंका इस सीरिज में सबसे ऊँचे स्थान पर पहुँच गई हैं.

बताते चले कि ये कोई पहली बार नहीं हैं जब मैच के दौरान इस तरह का कोई हादसा हुआ हैं. मसलन वर्ल्ड कप फाइनल मैच में भी कुछ ऐसा ही हादसा हो चूका हैं. उस दौरान  सुपरओवर में नीशम का छक्का देख उनके बचपन के एक कोच ने घर में ही दम तोड़ दिया था. कई लोगो के लिए क्रिकेट सिर्फ एक खेल नहीं हैं बल्कि इसके साथ उनके कई इमोशन जुड़े हुए हैं.

Show More
Back to top button