मुख्य समाचार

खुलासा – फिर होने वाली है भारत और चीन के बीच जंग! नेपाल-म्यांमार के रास्ते हमला करने वाला है ड्रैगन!

नई दिल्ली – दुनिया कि सबसे बड़ी खुफिया एजेंसी सीआईए ने एक ऐसा खुलासा किया है जो भारत के लिए चिंता का कारण हो सकता है। अमेरिकी का खुफिया एजेंसी सीआईए का दावा है कि 1962 के युद्ध के बाद चीन एक बार फिर भारत पर हमला कर सकता है। अंतरराष्ट्रीय मीडिया के मुताबिक 1962 के युद्ध के बाद चीन एक बार फिर भारत पर हमला कर सकता है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि चीन तिब्बत, म्यांमार या फिर नेपाल-भूटान के रास्ते भारत पर हमला करेगा। लेकिन, चीन शायद यह भूल गया है कि यह 1962 का नहीं बल्कि 2017 का भारत है, जिसके प्रधानमंत्री मोदी हैं। China could attack on India.

दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा, चीन कर सकता है हमला –

अमेरीकी एजेंसी कि माने तो चीन तिब्बत, म्यांमार या फिर नेपाल-भूटान के रास्ते भारत पर हमला करेगा। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार पिछले कुछ समय से दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ा है। हाल ही में सीआईए ने कुछ गोपनीय दस्तावेज सार्वजनिक किए हैं। गौरतलब है कि 1963 से अमेरिकी खुफिया अफसर चीन के भारत को लेकर रुख पर स्टडी कर रहे हैं। पिछले महीनों में सीआईए, डिफेंस इंटेलिजेंस एजेंसी (डीआईए) और अमेरिकी खुफिया बोर्ड (यूएसआईबी) ने भारत-चीन संबंधों को लेकर कई आकलन किए हैं। इसके मुताबिक चीन अपने पड़ोसी देशों पर हमला कर सकता है।

 

भारत-चीन युद्ध हुआ तो चीन सिख जाएगा सबक –

चीन दशकों से अपने पडोसी देशों के साथ घिनौनी हरकतें करता रहा है, जिसकी वजह से कोई भी पड़ोसी मुल्क उसके साथ नहीं है। वियतनाम, ताइवान, फिलीपींस, जापान और भारत सभी उसके खिलाफ खार खाये बैठे हैं। ऐसे में सीआईए का इस प्रकार को दावे से भारत को ज्यादा चिंतित होने कि जरुरत नहीं है। भारत ने हाल ही में चीन से सटी सीमा पर ब्रम्होस मिसाइल, टैंक तथा सुखोई जैसे विमान तैनात कर चीन को कड़ा संदेश दिया है। फिलहाल, अगर सीआईए का दावे को तवज्जों न दी जाए तो इसकी वजह बस ये है कि हमारी सेना की ताकत और पड़ोसी देशों के साथ भारत के मौजूदा संबंध चीन के लिए ही एक बड़ी चुनौती है। जिससे पार पाना चीन के लिए 1962 जैसे बिल्कुल नहीं होने वाला।

Related Articles

Close