हवाई जहाज में बैठे यात्री को सीने में हुआ अचानक दर्द, BSF जवान ने किया ऐसा काम कि बच गई जान छुट्टी पर होने के बावजूद बीएसऍफ़ जवान ने कुछ इस तरह बचाई एक हवाई यात्री कि जान

भारतीय सेना की जितनी तारीफें की जाए कम ही होती हैं. ये लोग अपनी ड्यूटी निभाते हुए देश की रक्षा तो करते ही हैं लेकिन साथ में कई जरूरतमंदो की मदद करने के लिए भी जाने जाते हैं. फिर चाहे वो मुसीबत में फसा हुआ कोई इंसान हो या फिर बेजुबान जानवर हो. मसलन जब कही प्राकृतिक आपदा आती हैं तो ये अपना जी जान लगाकर लोगो की जान बचाने में लग जाते हैं. इतना ही नहीं कई मामले ऐसे भी देखे गए हैं कि जहां ये बिना किसी निजी स्वार्थ के मुसीबत में फसे जानवरों तक की मदद कर देते है. इसी कड़ी में हाल ही में एक और वाक्या सामने आया हैं, जहाँ एक बीएसऍफ़ जवान ने एक अंजान यात्री की जान बचाई.

बात हैं ये हैं कि बीएसएफ में एसएमओ डॉ. लोकेश्वर खजुरिया एक प्लेन में सफ़र कर रहे थे. उन्ही के पास एक अन्य यात्री भी बैठा हुआ था. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लोकेश्वर उस दौरान ड्यूटी पर नहीं थे. वे अपनी किसी निजी काम के कारण हवाई यात्रा कर रहे थे. ऐसे में उनके बाजू में बैठे एक यात्री को अचानक सिने में तेज दर्द होने लगा. यह देख लोकेश्वर तुरंत एक्टिव हो गए और परिस्थिति को भापते हुए साथी यात्री की जान बचने में जुट गए. उन्होंने उस यात्री को आवश्यक मेडिकल सहायता प्रदान की. उनकी इस हेल्प के कारण यात्री की जान जाने का ख़तरा टल गया और उसकी जान बच गई. यह चमत्कार लोकेश्वर की सूझबुझ और तुरंत निर्णय लेने की क्षमता के कारण संभव हो सका. वे ऑफ ड्यूटी पर थे लेकिन फिर भी उन्होंने एक आम नागरिक की मदद करना अपना कर्तव्य समझा. सही मायने में वे हमारे असली हीरो बन गए.

उधर ‘बीएसएफ’ (सीमा सुरक्षा बल) ने भी ट्विटर पर लोकेश्वर खजुरिया के काम की तारीफ़ करते हुए उन्हें सलाम किया. BSF ने इस बहादुर जवान की तस्वीर साथी यात्री के साथ शेयर करते हुए लिखा कि “एक प्रहरी कभी भी ऑफ ड्यूटी नहीं रहता हैं. फ्लाईट में यात्रा के समय एक यात्री को सिने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. इस इमरेंजी स्थिति में बीएसएफ के एसएमओ डॉ. लोकेश्वर खजुरिया उस यात्री की सहयता करने आगे आए और उन्हें जरूरी चिकित्सा देकर एक जिन्दगी बचा ली.

बीएसएफ जवान का ये काम सच में सराहनीय हैं. इस खबर के वायरल होने के बाद लोग सोशल मीडिया पर जवान की तारीफों के पूल बंधने लग गए. एक यूजर ने कहा कि “ये हैं हमारे देश का सच्चा जवान, इसकी सोच और काम को मेरा सलाम.” दुसरे ने कहा “जवान छुट्टी पर था लेकिन फिर भी एक शख्स की जान बचाने में कामयाब रहा. लगता हैं इनका जन्म लोगो की जान बचाने के लिए ही हुआ हैं.” इसके बाद एक व्यक्ति लिखता हैं “ऐसे इमर्जेंसी वाले हालत में भी जवान ने समझदारी से काम लिया. उनके तुरंत और सही एक्शन लेने की वजह से एक शख्स की जान बच गई. भगवान आपको भी लंबी उम्र दे.

बता दे कि ये कोई पहली बार नहीं हैं जब एक जवान ऑफ ड्यूटी व्यक्ति की मदद करते हुए पाया गया हैं. इसके पहले भी और कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं.