कश्मीर के दिव्यांग बच्चे को अपने हाथों से खाना खिलाते नज़र आया CRPF जवान, देखे विडियो विडियो देख ऐसा लगता हैं मानो एक पिता अपने पुत्र को खाना खिला रहा हैं

हमारी इंडियन आर्मी के जवानो की जितनी तारीफ़ की जाए कम हैं. ये जवान दिन रात सीमा पार हमारी सुरक्षा के लिए तेनात रहते हैं. उनकी वजह से ही हम यहाँ रोज रात चैन की नींद सो पाते हैं. देश का जम्मू और कश्मीर वाला इलाका हमेशा से ही काफी संवेदनशील रहा हैं. यहाँ सबसे उपद्रवी लोग सबसे ज्यादा एक्टिव रहते हैं. ऐसे में इन इलाकों में सबसे अधिक सेना के जवान तैनात किये जाते हैं. हालाँकि कश्मीर में रहने वाले सभी लोग सेना की इज्जत नहीं करते हैं. यहाँ सेना के ऊपर पत्थर बरसाए जाने जैसे किस्से आप कई बार सुन चुके होंगे. लेकिन इन सबके बावजूद सेना को यहाँ के लोगो की काफी परवाह हैं. वे हर हाल में अपनी ड्यूटी पूरी इमानदारी से निभाते हैं और साथ ही इंसानियत का भी पूरा पूरा ख्याल रखते हैं.

इसका एक ताज़ा उदाहरण हाल ही में एक विडियो के माध्यम से देखने को मिला हैं. दरअसल इंटरनेट पर इन दिनों एक विडियो बड़ा ही तेज़ी से वायरल हो रहा हैं. इस विडियो में एक सीआरपीऍफ़ (सेन्ट्रल रिजर्व पुलिस फ़ोर्स) का जवान कश्मीर के एक दिव्यांग बच्चे को खाना खिलाते नज़र आ रहा हैं. ये विडियो देखने में काफी दिल छू लेने वाला हैं. इसमें ये जवान दूकान के बाहार सीढ़ियों पर बैठे एक दिव्यांग बच्चे को बड़े प्यार से अपने हाथों से खाना खिलाता हैं. इतना ही नहीं वो बीच बीच में इस बच्चे का मुंह भी साफ़ करता जाता हैं. CRPF जवान और कश्मीरी बच्चे के बीच का ये प्रेम देख दिल गद-गद हो जाता हैं.

जानकारी के मुताबिक़ बच्चे को खाना खिला रहा ये जवान हवलदार इकबाल सिंह हैं. इकबाल उस सीआरपीऍफ़ जवानों के काफिलो का एक ड्राईवर हैं जिनके उपर 14 फरवरी को पुलवामा में हमला हुआ था. इस दौरान हमारे 40 जवान शहीद हो गए थे. अपने इस प्यारे और नेक काम के लिए इकबाल को जनरल कमिशन डिस्क और कमेंडेशन सर्टिफिकेट भी मिला हैं. ये वो अवार्ड हैं जो उस व्यक्ति को दिया जाता हैं जो अपने करियर में कोई तारीफ़ लायक और दयालु काम करता हैं. इस विडियो को मूल रूप से जम्मू और कश्मीर पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया हैं. इसके साथ उन्होंने केप्शन में लिखा हैं कि ‘वी केयर‘ यानी ‘हमें परवाह हैं.

गौरतलब हैं कि कुछ कश्मीरी लोग अक्सर सेना के ऊपर आरोप लगाते रहते हैं कि उन्हें कश्मीर के लोगो की फिक्र नहीं हैं. लेकिन इस विडियो को देख साफ़ जाहिर हैं कि ऐसी कोई बात नहीं हैं. ये जवान तो बस यहाँ अपना कम करते हैं और आतंकी गतिविधियाँ फैलाने वाले उपद्रवियों को रोकने का काम करते हैं. उधर सोशल मीडिया पर भी इस विडियो को लेकर कई पॉजिटिव रिएक्शन आ रहे हैं. लोगो को ये विडियो खूब पसंद आ रहा हैं. एक यूजर ने लिखा कि “यदि हम इंसानियत पर उतर आए तो कोई किसी का दुश्मन नहीं रहेगा.” वहीं एक अन्य यूजर लिखता हैं “ये जवान बच्चे को इस तरह खाना खिला रहा हैं जैसे एक पिता अपने पुत्र को खिलाता हैं.” फिर एक ने लिखा “ये हैं असली इंसानियत. सर! आपको मेरा सलाम.

इस दिल छू लेने वाले विडियो को आप यहाँ देख सकते हैं.