विशेष

इन 6 नुस्खों को अपनाने से तुरंत बढ़ जाती है याददाश्त, दिमाग करने लगता है तेजी से काम

अगर आप भी अक्सर चीजों को भूल जाते हैं और आपकी याददाश्त कम हो रही है तो आप इसे अनदेखा ना करें क्योंकि याददाश्त शक्ति घटना एक गंभीर बीमारी बन सकती है। इसलिए याददाश्त शक्ति कम होने पर आप नीचे बताए गए छह उपायों को जरूर अपनाएं। इन उपायों की मदद से याददाश्त सही बनीं रहती है और दिमाग तेजी से काम करने लग जाता है।

याददाश्त बढ़ाने  के लिए अपनाएं ये सरल उपाए-

लगाएं बालों पर मेहंदी

बालों पर मेहंदी लागने से याददाश्त शक्ति को बढ़ाया जा सकता है। आयुर्वेद के अनुसार मेहंदी के पत्तों में करनोसिक नामक तत्व पाया जाता है जो कि याददाश्त बढ़ने का काम करता है। इसलिए जब आप अपने सिर पर मेहंदी लगाते हैं तो इसका अच्छा असर आपके दिमाग पर पड़ता है और मेहंदी लगाने से दिमाग की मांसपेशियां एक्टिव हो जाती हैं।

करें मेवों का सेवन

मेवों को दिमाग के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है और इनको खाने से दिमाग तेजी से काम करता है। सभी तरह के मेवों में से बादाम और अखरोट को दिमाग के लिए सबसे ज्यादा लाभदायक माना गया है। क्योंकि इनके अंदर विटामिन ए और एंटीऑक्सीडेंट्स तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं और ये याददाश्त बढ़ाने में मददगार होते हैं। इसलिए आप रोज अखरोट और बादाम का सेवन जरूर किया करें। आप बादाम का सेवन दूध के साथ कर सकते हैं या फिर इनको सुबह खाली पेट भी खा सकते हैं। हालांकि आप इस बात का ध्यान रखें की गर्मी के मौसम में इनका अधिक सेवन ना करें और अखरोट और बादाम को पानी में ही भिगोकर ही खाएं।

सुबह के समय टहलना

सुबह के समय किसी पार्क में या फिर खुली जगह पर टहलने से दिमाग और शरीर को कई तरह के लाभ मिलते हैं। सुबह जल्दी उठकर टहलने से दिमाग को सुकून मिलता है और हर तरह के तनाव से आपको निजात मिल जाती है। इसलिए आप रोज सुबह उठकर खुली हवा में कम से कम 15 मिनट जरूर घूमा करें।

फल खाएं

फलों के अंदर कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं और इन एंटीऑक्सीडेंट की मदद से दिमाग हर वक्त तेजी से काम करता था। साथ में ही ये एंटीऑक्सीडेंट याददाश्त बढ़ाने में भी कारगर साबित होते हैं। इसलिए आप एंटीऑक्सीडेंट युक्त फलों का जैसे अनार,चेरी और सेब का सेवन जरूर किया करें। रोजाना इन फलों को खाने से आपकी याददाश्त बढ़ाने लग जाएगी।

ग्रीन टी का सेवन करें

कई लोगों को चाय और कॉफी पीना काफी पसंद होता है। लेकिन चाय और कॉफी को दिमाग के लिए सही नहीं माना गया है और इनको पीने से याददाश्त पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए आप चाय और कॉफी  की जगह ग्रीन टी को पीया करें। क्योंकि ग्रीन टी को पीने से दिमाग को किसी भी तरह की नुकसान नहीं पहुंचता है।

योगा करें

योगा करना  शरीर और दिमाग के लिए काफी लाभदायक होती है और जो लोग नियमित रूप से रोज योगा किया करते हैं उनका दिमाग हमेशा सेहतमंद बना रहता है और याददाश्त भी कमजोरी नहीं होती है। इसलिए आप रोज योगा किया करें।

Back to top button