फिक्स हुई ‘पीएम मोदी की बायोपिक’ की डेट, इस खास दिन फिल्म होगी रिलीज लंबे संघर्ष और इंतजार के बाद आखिरकार फिल्म रिलीज की डेट फिक्स हो चुकी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक का इंतजार कर रहे फैंस को अब एक फिक्स डेट मिल चुकी है। जी हां, लंबे संघर्ष और इंतजार के बाद आखिरकार फिल्म रिलीज की डेट फिक्स हो चुकी है। नरेंद्र मोदी की बायोपिक के लिए जनता में काफी उत्साह है, लेकिन बार बार विवादों की वजह से फिल्म की डेट बदल रही थी। बार बार डेट बदलने से नरेंद्र मोदी की बायोपिक का इंतजार कर रहे फैंस काफी मायूस होते थे, लेकिन अब मायूसी का वक्त नहीं रहा। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास हैं?

नरेंद्र मोदी ने जब से भारत के प्रधानमंत्री का पद संभाला है, तब से उनकी लोकप्रियता दिन ब दिन बढ़ती ही जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिर्फ भारत में खूब नाम कमाया है, बल्कि विदेशों में भी भारत का नाम अपने काम से ऊंचा किया है। ऐसे में अब जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक लोगों के बीच आ रही है, तो मानो सब्र टूट रहा है। जी हां, लोग अपने पसंदीदा नेता की बायोपिक देखने के लिए काफी ज्यादा उत्साहित हैं।

11 अप्रैल को रिलीज होगी पीएम मोदी की बायोपिक

पीएम मोदी की बायोपिक की डेट बार बार बदली जा रही है, लेकिन अब एक फिक्स डेट मिल चुकी है। जी हां, पीएम मोदी की बायोपिक अब 11 अप्रैल को रिलीज होगी। तमाम राजनीतिक विरोधों के बाद पीएम मोदी की बायोपिक 11 अप्रैल को रिलीज होगी। साथ ही बता दें कि 11 अप्रैल को पहले चरण के लिए मतदान होगा। याद दिला दें कि पहले यह फिल्म 5 अप्रैल को रिलीज होने वाली थी, लेकिन विरोध होने की वजह 12 अप्रैल फिक्स हुई और एक बार इसकी डेट बदल गई, जिसके बाद अब 11 अप्रैल को रिलीज होगी।

विवेक ओबरॉय ने दी जानकारी

बताते चलें कि पीएम मोदी की बायोपिक में मोदी का किरदार निभाने वाले विवेक ओबरॉय ने खुद ब खुद डेट बदलने की तारीख का ऐलान किया। विवेक ओबरॉय ने ट्वीट करते हुए फिल्म के रिलीज की डेट बताई। साथ ही पीएम मोदी की बायोपिक का पोस्टर भी बदला हुआ नजर आ रहा है। विवेक ओबरॉय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि सपोर्ट करने के लिए सभी का धन्यवाद और आशा करता हूं कि यह फिल्म आप लोगों को खूब पसंद आएगी। बता दें कि विवेक ओबरॉय की लाइफ की यह सबसे महत्वपूर्ण फिल्म है, जिसके लिए उन्होंने दिन रात मेहनत की है।

विवादों पर विवेक ने दिया था बयान

हाल ही में एक इंटरव्यू में विवेक ओबरॉय ने कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा है कि लोग इस फिल्म पर इतना ओवररिएक्ट क्यों कर रहे हैं? विवेक ओबरॉय ने कहा कि यह फिल्म आम है, लेकिन पता नहीं क्यों विपक्ष इससे डरी हुई है। साथ ही विवेक ने यह भी कहा कि या तो विपक्ष फिल्म से डरी है या फिर चौकीदार के डंडे से डर गई है।