दिलचस्प

शादी के बाद 90% महिलाओं का क्यों बढ़ जाता है वजन ?जानिए 7 असल कारण

शादी इंसान के जीवन का बहुत बड़ा टर्निंग प्वाइंट होता है जब लड़का-लड़की दोनों का जीवन पूरी तरह से बदल जाता है. उनकी अपनी कोई प्राइवेसी नहीं होती और ना ही उन्हें कभी किसी और की जरूरत पड़ती है. एक सफल शादीशुदा जिंदगी को बिताने वाले जानते हैं कि अपना हमसफर जैसा भी हो लेकिन सच्चा होता है और उसके लिए किसी भी तरह का समझौता बर्दाश्त नहीं होता. शादी के बाद लड़के और लड़कियां दोनों में बदलाव आता है लेकिन सबसे ज्यादा बदलाव लड़कियों में आता है क्योंकि शादी के बाद 90% महिलाओं का क्यों बढ़ जाता है वजन, क्या आप जानते हैं इसका कारण ?

शादी के बाद 90% महिलाओं का क्यों बढ़ जाता है वजन ?

एक रिसर्च के मुताबिक, शादी के 5 साल अंदर ही महिलाओं की बॉडी में बहुत तेजी से बदलाव आता है. 82% महिलाओं का तो वजन 5 से 10 किलो बढ़ जाता है. शादी के बाद महिलाओं के कुछ अंगों का आकार बढ़ने लगता है, जिसमें ब्रेस्ट, हिप्स, टमी और पैर शामिल होते हैं लेकिन क्या आप इन बदलावों का असली कारण जानते हैं अगर नहीं तो हम आपको इस बारे में बताएंगे.

खानपान में बदलाव

अकसर ये देखा गया है कि शादी के बाद लड़कियों में खाने-पीने का समय, टेस्ट और कई आदतें बदल जाती हैं. ससुराल के सदस्यों की तरह ही खाना-पीना मैनेज करना होता है और नतीजा ये होता है कि उसका असर शरीर पर दिखने लगता है.

रूटीन में जंक फूड ज्यादा शामिल होना

शादी के बाद नया मोड़ आता है और हनीमून या घूमना ज्यादा हो जाता है. ऐसे में जंक फूड ज्यादा खाने पीने से भी मोटापा बढ़ने लगता है. इसके पीछे की वजह से ये है कि जगह-जगह घूमने से अलग-अलग जगहों का खाना भी खाना पड़ता है.

हार्मोनल बदलाव

शादी के बाद सिर्फ लाइफस्टाइल ही नहीं बदलती बल्कि महिलाओं में कई हार्मोनल चेंजेस भी आते हैं. ऐसा कहा जाता है कि शारीरिक संबंध बनाने के बाद अक्सर महिलाओं का वजन बढ़ जाता है लेकिन इसके पीछे का तर्क अभी पूरी तरह से सामने नहीं आया है.

उम्र का असर

आज की महिलाएं खुद को सेटल करने के लिए समय लेती हैं इसलिए उनकी शादी भी 28 से 30 साल की उम्र में होती है. इसके बाद महिलाओं के शरीर में कई बदलाव आ जाते हैं और रिसर्च कहती है कि 30 की उमर् के बाद बॉडी का मेटाबॉलिक सिस्टम कम हो जाता है और इस कारण भी वजन बढ़ने लगता है.

प्रेग्नेंसी

शादी के बाद महिलाओं का मां बनना लाजमी है और अक्सर शादी के 1 या 2 साल के बाद कपल्स फैमिली प्लानिंग करने लगते हैं और प्रेग्नेंसी के दौरान या बाद में वजन बढ़ ही जाता है. जिसके बाद बिजी लाइफस्टाइल हो जाती है और वजन पर कंट्रोल करना मुश्किल हो जाता है.

नींद पूरी नहीं होना

शादी के पहले लड़कियां जितना सोती है शादी के बाद उनकी नींद उतनी ही पूरी नहीं हो पाती. अक्सर घर का काम पति का जल्दी ऑफिस जाना और बच्चों के लिए महिलाओं को पूरी तरह से नींद नहीं मिल पाती. रिसर्च के मुताबिक हर दिन 7 से 8 घंटे सोना बहुत जरूरी होता है लेकिन जब पूरी नींद नहीं मिल पाती तो बॉडी का मेटाबॉलिज्म कम हो जाता है और वजन बढ़ जाता है.

ज्यादा स्ट्रेस लेना

शादीशुदा लाइप में कई बदलाव आने और जिम्मेदारियों का बोझ बढ़ने से भी महिलाएं अक्सर स्ट्रेस लेती हैं. ऐसे में बॉडी में भूख बढाने वाले हार्मोन्स का लेवल भी बढ़ जाता है और इससे वजन तेजी से बढ़ने लगता है.

Back to top button
?>